रायपुर-खाद्य मंत्री एवं नागरिक आपूर्ति निगम के संचालक मंडल के अध्यक्ष  अमरजीत भगत की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रालय महानदी भवन स्थित बैठक कक्ष में संचालक मंडल की 72वीं बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में बताया गया कि बस्तर क्षेत्र में सार्वभौम पीडीएस के तहत गुड़ वितरण का काम जल्द ही शुरू होगा। नागरिकों को गुड़ प्रदाय उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से किया जाएगा।

संचालक मंडल की बैठक में नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारियों-कर्मचारियों को दीपावली त्यौहार के अवसर पर प्रोत्साहन राशि के रूप में एक माह का वेतन देने के अलावा कर्मियों को वर्तमान छठवां एवं सातवां वेतनमान का महंगाई भत्ते में एक जनवरी 2019 से नियमानुसार वृद्धि करने का निर्णय लिया गया। इसी प्रकार कार्यरत वाहन चालक, भृत्य, चौकीदार और तुलावटी कर्मचारियों को दी जाने वाली वर्दी की राशि में वृद्धि करने और वाहन भत्ता से वंचित कर्मचारियों को वाहन भत्ता देने का निर्णय लिया गया है।

संचालक मंडल की बैठक में खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में चावल उपार्जन कार्य के लिए प्लेसमंेट एजेंसी के माध्यम से 108 गुणवत्ता कर्मियों से सेवाएं लेने के संबंध में सहमति दी गई। बैठक में चना वितरण कार्य की भी समीक्षा की गई। बताया गया कि बस्तर, सरगुजा संभाग एवं माडा क्षेत्रों के 85 विकासखंडों में चना वितरण किया जा रहा हैं। इस वर्ष बीपीएल परिवारों के साथ-साथ एपीएल परिवारों को भी चावल प्रदाय किया जाएगा। इसके लिए नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा आवश्यक व्यवस्था कर ली गई है।

नागरिक आपूर्ति निगम के एम.डी.  निरंजन दास ने बैठक में एजेंडा का बिंदुवार प्रस्ताव प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा वर्तमान में संचालित एकीकृत कॉल सेंटर को अत्याधुनिक बनाकर संचालित किया जाएगा। इस कॉल सेंटर के जरिए आम नागरिक सार्वभौम पीडीएस से संबंधित शिकायते दर्ज करा सकते हैं। नागरिकों की शिकायतों पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी। बैठक में खाद्य विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह, वित्त विभाग के सचिव सुश्री शहला निगार सहित संचालक मंडल के सदस्य मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here