Home छत्तीसगढ़ कोसरंगी व् अचानकपुर में धान खरीदी केंद्र खोलने के लिए खाद्य मंत्री...

कोसरंगी व् अचानकपुर में धान खरीदी केंद्र खोलने के लिए खाद्य मंत्री का कराया ध्यानाकर्षित

धान बेचने के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ता है

महासमुंद। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने खाद्य मंत्री अमरजीत भगत से मुलाकात कर क्षेत्र के कोसरंगी व अचानकपुर में धान खरीदी केंद्र खोलने ध्यानाकर्षित कराया। जिस पर मंत्री ने इस दिशा में उचित पहल करने का आश्वासन दिया।

बुधवार को संसदीय सचिव ने खाद्य मंत्री भगत से मुलाकात की। इस दौरान खाद्य मंत्री भगत को संसदीय सचिव  चंद्राकर ने बताया कि कोसरंगी व अचानकपुर में धान खरीदी केंद्र खोलने के लिए ग्रामीण लगातार मांग कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि ग्राम कोसरंगी, सिड़गिड़ी, जामली, केशवा, गौरखेड़ा व उमरदा के किसानों को धान बेचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

धान खरीदी केंद्र का औचक निरीक्षण 30 क्विंटल धान किया जब्त

कोसरंगी व् अचानकपुर में धान खरीदी केंद्र खोलने के लिए खाद्य मंत्री का कराया ध्यानाकर्षित

वर्तमान में ग्रामीण सेवा सहकारी समिति झालखम्हरिया में धान बेचने जाना पड़ता है। यहां 14 गांवों के किसान धान बेचने आते हैं। लिहाजा धान बेचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। वहीं उमरदा-गौरखेड़ा के किसानों को करीब दस किमी दूरी तय कर धान बेचने आना पड़ता है।

योग आयुर्वेद एवं प्राकृतिक चिकित्सा शिविर दलदली में चलेगा 17 दिसंबर तक

इसी तरह ग्राम अचानकपुर में पृथक से धान उपार्जन केंद्र खोले जाने की जरूरत है। आदिम जाति सेवा सहकारी समिति मर्यादित जलकी में अचानकपुर, खडउपार, बंदोरा, खिरसाली व फुसेराडीह के किसान धान विक्रय करते हैं। जलकी समिति उक्त गांवों से करीब 10-12 किमी दूर पड़ता है। अधिक दूरी के साथ ही हाथी प्रभावित क्षेत्र होने के कारण किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लिहाजा अचानकपुर में नवीन धान उपार्जन केंद्र प्रारंभ करने की आवश्यकता है। जिस पर खाद्य मंत्री ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

हमसे जुड़े :–https://dailynewsservices.com/

Translate »