MP: दमोह जिले के तेजगढ़ में पिछले महीने एक सड़क दुर्घटना में एक शिक्षक महेन्द्र दीक्षित जिनके बेटे की मृत्यु (The death)हो गई थी उसके तेरहवी के दिन युवाओ को हेलमेट वितरित(Delivered) किया.उनका कहना है कि “मेरा बेटे की मौत २० नवंबर को सडक हादसे (Road accident)में हो गया क्योकि उसने हेलमेट नहीं पहना (wear)था. मैं युवाओं को हेलमेट दे रहा हूं ताकि ऐसी घटनाएं (Events)दोबारा न हों और किसी के घर का चिराग बुझे न.

https;निगरानी दलों ने  धान के अवैध परिवहन के आठ प्रकरणों पर की कार्यवाही-

ज्ञात हो कि जिले के तेजगढ़ कस्बे के निवासी शिक्षक(teacher) महेन्द्र दीक्षित के युवा बेटे विभांशु का पिछले दिनों तेजगढ़ के पास सर्रा रोड पर सड़क हादसे (Road accident)में मृत्यु हो गई. हादसे के दौरान उसने हेलमेट नहीं पहना था जिसके कारण सिर पर गंभीर चोट (Severe head injury)आने की वजह से उसकी मौत हुई थी.

https;-बड़े व्यापारी 25 टन और खुदरा विक्रेता 5 टन प्याज का रख सकेंगे स्टॉक-

विगत दिनों बेटे की तेरहवीं पर महेन्द्र दीक्षित ने श्रद्धांजलि सभा(Tribute meeting)में कहा कि मेरे बेटे की असमय हुई मृत्यु से हमारे परिवार को गहरा सदमा (Deep shock)लगा है, वहीं ईश्वर न करें कि इस प्रकार की घटना किसी अन्य के भी साथ हो. इस कारण बेटे की तेरहवीं संस्कार में ५१ युवाओं को हेलमेट भेंट किये हैं ताकि वे वाहन चलाते समय इसे पहनकर अपने जीवन को सुरक्षित (Life safe) रखें.

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here