Home छत्तीसगढ़ सास-बहू, देवरानी-जेठानी,ननद-भौजाई दिए एक साथ परीक्षा

सास-बहू, देवरानी-जेठानी,ननद-भौजाई दिए एक साथ परीक्षा

पढ़ना लिखना अभियान के तहत हुए महापरीक्षा में महिला एवं बुजुर्ग शिक्षार्थियों ने दिखाया उत्साह

बलौदाबाजार- शिक्षार्थियों में एक साथ सास-बहू, माँ-बेटी, देवरानी-जेठानी, ननद-भौजाई तथा गोद लिए बच्चों के साथ उत्साह के साथ पढ़ना लिखना अभियान के अंतर्गत आयोजित महापरीक्षा  में परीक्षा दिलाए है । इस अभियान के अंतर्गत जिले में कई दिलचस्प नजारे देखने को मिले। यह आयोजन कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण के अध्यक्ष सुनील कुमार जैन के कुशल मार्गदर्शन में परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई। परीक्षा के लिए पंजीकृत सभी 6621 शिक्षार्थी 121 केन्द्रों पर शामिल हुए।

गौरतलब है कि शिक्षार्थियों को एनएसएस, एनसीसी, स्काउट गाइड एवं स्कूली बच्चों द्वारा 120 घंटे का प्रशिक्षण दिया गया । इस दौरान निरक्षरों को मुलभूत शिक्षा प्रदान की गयी एवं उन्हें पढ़ना, लिखना सीखाया गया। इस सम्पूर्ण कार्यक्रम में कलेक्टर सुनील कुमार जैन एवं जिला पंचायत की सीईओ डॉ. फरिहा आलम सिद्धिकी का लगातार मार्गदर्शन मिला। शिक्षार्थी पर्ची का वितरण स्वयंसेवी शिक्षकों व ग्राम, वार्ड प्रभारी तथा केन्द्र प्रभारी द्वारा घर-घर जाकर दिये गए।

नर्सिंग परीक्षा के लिए महासमुंद में परीक्षा केंद्र बनाए जाने की मांग

सास-बहू, देवरानी-जेठानी,ननद-भौजाई दिए एक साथ परीक्षा

IPL क्रिकेट मैच पर ऑनलाईन सट्टा,रायपुर के 2 व् पिथौरा के 2 लोग गिरफ्तार

साक्षर बनने बुजुर्गों के अलावा सास-बहू, माँ-बेटी, देवरानी-जेठानी, ननद-भौजाई ने उत्साह दिखाया । ग्रामों व वार्डों में मुनादी भी कराया गया। जिला शिक्षा अधिकारी सीएस धु्रव, जिला परियोजना अधिकारी आर.सोमेश्वर राव, नोडल अधिकारी आर.सोमेश्वर राव सहित नोडल अधिकारी जहीर अब्बास सहित शिक्षा एवं राजीव गांधी शिक्षा मिशन के अधिकारियों ने बार-बार निरीक्षण किया। इस परीक्षा को सफल बनाने में स्त्रोत व्यक्ति, कुशल प्रशिक्षक, स्वयंसेवी शिक्षक आदि का विशेष योगदान रहा।

हमसे जुड़े :–https://dailynewsservices.com/

Translate »