बीच बजरिया आइस इलाज करइया हाट बाज़ार क्लीनिक:- स्वास्थ्य विभाग ने लाइव रिपोर्टिंग कर जानी वस्तुस्थिति

 

महासमुंद:माननीय मुख्यमंत्री महोदय द्वारा शुरू की गई जन-कल्याणकारी योजनाओं में हाट-बाजार क्लीनिक योजना दूसरे हफ्ते में ही जरूरतमंदों तक पहुच गई। इसकी पुष्टि ग्रामीण अंचल यानी शिविर के दौरान मौके पर वस्तुस्थिति आंकने पहुँची जिला स्वास्थ्य समिति की टीम को हुई। जब वे झलप और खट्टी सहित अन्य ग्रामीण क्षेत्रों के मरीजों से रूबरू हुए।

झलप के हाट बाजार में सबसे पहले मिले 80 वर्षीय श्री पुरंदर। उन्हें पैर दर्द और खांसी की शिकायत थी। उन्होंने बताया कि वे कई दिनों से तकलीफ में थे आज उनकी बिटिया उन्हें यहाँ ले आई। घर से 04 कदम चलते ही डॉक्टर से इलाज और निःशुल्क दवा भी आसानी से मिल गई। मात्र डेढ़ वर्ष की कु.ममता रौत्या कहती है कि उसकी माँ  खीरो बाई हाट बाजार में ही विक्रय कर रही थी तो वह अपनी सहेलियों के साथ सर्दी की दवा कराने आई है। इधर,  कीर्ति सेन ने बिना अस्पताल जाए घर बैठे रक्तचाप और मधुमेह की जाँच होने पर संतोष जताया।

बढ़ते क्रम में खट्टी में मिले ऐसे ग्रामीण जो हाथों में हरी-भरी सब्जियों का थैला लिये हुए थे। पूछने पर 53 वर्षीय अहरेमती चिंता बाई ने बताया कि उन्हें हमेशा कमजोरी लगती रहती थी और जब आज खरीदी करते समय दर्द उठा तो उन्होंने तुरंत हाट बाजार क्लीनिक का रुख किया और दर्द एवं विटामिन की दवा प्राप्त की। साथ ही साथ जहाँ, 24 वर्षीय श्रीमती सीमा ध्रुव अपनी 09 साल की बेटी वेदांशी की सामान्य जांच करा कर खुश थी। वही, महज 11 साल की बालिका कु.मीनाक्षी निषाद जो खट्टी की कन्या शाला में कक्षा 06 की छात्रा है, स्कूल से आते समय बिना पैसे खर्च किये डॉक्टर से बुखार और खांसी का उपचार कराने के बाद दवाएं लेकर घर लौटी।

उल्लेखनीय है कि रोजमर्रा कार्य संपादन के दौरान भी हरेक ग्रामीण को कम समय में बिना आर्थिक व्यय किये विशेषज्ञ चिकित्सकों से इलाज मुहैया करवाने मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने इस दिशा में पहल की है। जिसमें कलेक्टर  सुनील कुमार जैन के निर्देशन व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसपी वारे के मार्गदर्शन में जिले के 100 चिन्हांकित हाट बाजारों में 86 शिविर लगाए जा चुके हैं। जिनमें अबतक कुल 4153 से अधिक मरीज लाभान्वित हो चुके हैं। आगामी दिनों में भी यह क्रम निरंतर जारी रहेगा.

इस दौरान स्वास्थ्य विभाग के जिला कार्यक्रम प्रबंधक  संदीप ताम्रकार की अगुआई में शासकीय सामाजिक कार्यकर्ता असीम श्रीवास्तव सहित उनके विभागीय अमले ने लाइव रिपोर्टिंग का कार्य संपादित किया। मरीजों को स्वास्थ्य सेवायें प्रदाय करने में हाट बाजार झलप व खट्टी में क्रमशः सहायक चिकित्सा अधिकारी डॉ सुभाष कुमार पटेल व उनके सहयोगी ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक (पुरुष)  योगेश मिश्रा तथा खट्टी क्षेत्र में सहायक चिकित्सा अधिकारी डॉ खेमराज सोनकर, ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक (पुरुष)  मनोज कुमार चंद्रा सहित ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक (महिला) में कमलेश्वरी ध्रुव राजकुमारी ध्रुव एवं  माधुरी लता साहू का योगदान उल्लेखनीय रहा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here