Home छत्तीसगढ़ धान के अवैध परिवहन पर हुई बड़ी कार्रवाई, 754 कट्टा व 122...

धान के अवैध परिवहन पर हुई बड़ी कार्रवाई, 754 कट्टा व 122 क्विंटल अवैध धान जब्त

412
0

कवर्धा-छत्तीसगढ़ के कबीरधाम जिले में पडोसी राज्यों से आने वाले धान के अवैध परिवहनों की जॉच के लिए बनाई गई टीम ने आज बड़ी कार्रवाई की है। बोड़ला और पंडरिया अनुविभाग के अधिकारियों ने आज अलग-अलग कार्रवाई करते हुए लगभग 754 कट्टा धान जब्त किया है। बोड़ला अनुविभागीय अधिकारी द्वारा चिल्फी में वाहनो के औचक जॉच के दौरान मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले के सिहोरा से छत्तीसगढ़ में धान का अवैध परिवहन प्रकरण तैयार किया गया है। इस वाहन में 396 बोरी धान की जब्ती बनाई गई।

उल्लेखनीय है कि तीन दिन पहले कबीरधाम जिले के कलेक्टर  अवनीश कुमार शरण ने स्थानी स्तर पर तथा पडोसी राज्यों से आने वाले धान के अवैध परिवहन को रोकने के लिए सभी एसडीएम राजस्व और खाद्य विभाग की टीम को निर्देश दिये थे। उन्होंने कबीरधाम जिले में अवैध धान के परिवहन को रोकने के लिए बनाए गए चार अंतराज्यीय चेक पोस्ट का निरीक्षण करते हुए चौकसी बरतने के निर्देश दिए थे।

https;-20.40 करोड़ रुपये जब्त कर 6 लोग को किया गिरफ्तार

https;-11 वीं के छात्र ने स्कूल वॉशरूम में खुद को लगाई आग-

कलेक्टर द्वारा दिए गए निर्देशों के बाद आज बोड़ला एवं पंडरिया अनुविभागीय अधिकारियों ने धान के अवैध परिवहन तथा धान के अवैध भंडारण पर बड़ी कार्रवाई की गई है। बोड़ला अनुविभागीय अधिकारी तथा राजस्व तहसीलदार की संयुक्त टीम ने आज सुबह चिल्फी पर राष्ट्रीय राजमार्ग से आने वाली वाहनों की औचक जॉच शुरू की। इस औचक जॉच के दौरान वाहन क्रमांक एमपी 20 जीबी 3668 में 396 कट्टा धान अवैध रूप से परिवहन करने का प्रकरण बनाया गया। जॉच के दौरान यह मालूम हुआ है इस वाहन क्रमांक में मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले के सिहोरा मंडी से छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले के तिल्दा लाया जा रहा था। टीम द्वारा पूछताछ में वाहन चालक द्वारा छत्तीसगढ़ शासन खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग मंत्रालय महानदी भवन नया रायपुर के द्वारा जारी आदेश के परिपालन में संचालक खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति की अनुमति पेश नहीं कर पाया। अधिकारियों द्वारा पंचनामा तैयार कर चिल्फी थाने के सुपूर्द कर दिया गया है। वाहन चालक श्री राम पिता शंकर लाल ने बताया कि वह मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले के मझोली ग्राम का रहने वाला है।

इसी तरह पंडरिया अनुविभागीय अधिकारी  प्रकाश टंडन एवं तहसीलदार  विनोद बंजारे द्वारा ग्राम पाढ़ी, गांगपुर और कामठी में अवैध रूप से धान का भंडारण करने 358 कट्टा धान की जब्त की कार्रवाई की गई है। तहसीलदार विनोद बंजारे ने बताया कि पाढ़ी में रामानुज देवांगन द्वारा किसानों से धान की खरीदी की जाती है। उनके पास लाइसेंस भी नहीं है। उनके द्वारा कम दाम पर किसानों एवं स्थानीय निवासियों से धान की खरीदी की जाती है तथा अब तक उनके द्वारा 120 बोरी धान का भंडारण पाया गया। ग्राम गांगपुर में जैजैराम के दूकान का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान 200 बोरा धान कट्टा का अवैध भंडारण पाया गया। उन्होंने मंडी लाइसेंस नहीं बनाया है। ग्राम कामठी में लोकेश यादव के किराना दुकान का औचक निरीक्षण किया गया। दुकान में 38 बोरी धान अवैध रूप से भंडारण किया गया था। उन्होंने भी कोई भी मंडी से अनुमति नहीं ली है। एसडीएम ने सभी कोचिंयों से धान जब्त करने के बाद पंचनामा तैयार किया है। सभी कोचियों को आदेशित किया है कि उनके द्वारा बिना अनुमति के जब्त धान का बिक्री नहीं किया जाएगा और नहीं कहीं अन्य स्थल पर भंडारण करेगा।

https;-जिले की सभी जनपद पंचायतों के अध्यक्ष एवं सदस्यों तथा जिला पंचायत के सदस्यों का हुआ आरक्षण

बेमेतरा जिले में 122 क्विंटल अवैध धान जब्त

बेमेतरा-कलेक्टर  शिखा राजपूत तिवारी के निर्देश पर खरीफ-विपणन वर्ष 2019-20 में खरीदी केन्द्रों में अवैध धान की आवक पर रोक लगाने के उद्देश्य से खाद्य, राजस्व, मंडी एवं सहकारिता विभाग का दल गठित किया गया है, शुक्रवार को खाद्य विभाग के सहायक खाद्य अधिकारी खाद्य निरीक्षकों द्वारा नवागढ़ मोड़ के पास अवैध धान परिवहन करते वाहन से 91 क्विंटल वजन का 182 कट्टा मोटा धान जब्त किया गया, उक्त धान महालक्ष्मी ट्रेडर्स रनबोड़ के स्वामी  जैजेराम साहू का है। इसी प्रकार ग्राम कोदवा के वाहन में 62 कट्टा कुल 31 क्विंटल धान मिला। वाहनों में धान परिवहन के संबंध में कोई भी वैध दस्तावेज नही पाया गया। अवैध धान के उक्त प्रकरण में मंडी अधिनियम 1972 के तहत कार्यवाही करके धान एवं वाहन पुलिस अभिरक्षा में सौंपा गया।

जिले में इस वर्ष पंजीकृत किसानों की संख्या और धान के रकबे में वृद्धि को देखते हुये अवांछित व्यक्तियों के द्वारा धान लाकर खरीदी केन्द्रों में पंजीकृत किसानों के नाम पर खपाने/ बेचने का प्रयास किया जा सकता है। इस संबंध में शासन का निर्देश है कि विशेष चेकिंग दल के द्वारा नियमित रूप से निरीक्षण कर अन्य राज्यों से अवैध धान की आवक रोकने एवं अनियमितता पाये जाने पर प्रकरण दर्ज कर नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जावे। जांच दल की कार्यवाही आगे भी जारी रहेगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

भाषा बदले »