बलौदाबाजार :जिले की पुरगांव एवं भवानीपुर धान खरीदी केन्द्र में गड़बड़ी की पुष्टि होने पर दोषियों के विरूद्ध आज रात संबंधित थाने में प्रथम सूचना रिपोर्ट (एफआईआर) दर्ज की गई है। भारतीय दण्ड संहिता की धारा 420 एवं सुसंगत धाराओं के अंतर्गत बिलाईगढ़ एवं गिधपुरी थाने में अपराध दर्ज किया गया है। कलेक्टर  कार्तिकेया गोयल एवं एसपी नीतु कमल ने गड़बड़ी की आशंका होने पर दोनो खरीदी केन्द्र की जांच कराई। जांच के दौरान भौतिक सत्यापन किये जाने पर स्टाॅक में ज्यादा मात्रा में धान संग्रहित पाया गया। इसके साथ ही अन्य गड़बड़िया सामने आई। कलेक्टर-एसपी स्वयं भवानीपुर खरीदी केन्द्र पहुंचकर भौतिक सत्यापन किये। संबंधित सहकारिता विस्तार अधिकारियों द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराई गई.

यहाँ पढ़े :ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर केन्द्र प्रभारी निलंबित-

सहकारिता विभाग के उप पंजीयक एवं खाद्य विभाग के अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार पलारी विकासखण्ड के भवानीपुर खरीदी केन्द्र में एक हजार 26 कट्टा ज्यादा धान की मात्रा पकड़ी गई। जिसका वजन 410 क्विंटल होता है। इसके साथ ही केन्द्र में दो हजार 905 नग बारदाना कम पाया गया। समिति के फड़ प्रभारी से पूछताछ करने पर संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया। लिहाजा फड़ प्रभारी अमित कुमार आजाद एवं हमाल मुकद्दम सुशील कुमार निषाद के विरूद्ध गिधपुरी थाने में देर रात प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसी प्रकार बिलाईगढ थाने के अंतर्गत पुरगांव खरीदी केन्द्र में भी भारी गड़बड़िया उजागर हुई। बताया गया कि पुरगांव में भी जरूरत से 34 क्विंटल ज्यादा स्कंध पकड़ाया गया.

यहाँ पढ़े :व्यय लेखा जांच नहीं कराने पर 12 अभ्यर्थियों को नोटिस जारी-

समिति द्वारा किसानों के धान का बिना ढेरी लगाये सीधे अपने बारदाना में उड़ेलकर तौल किया गया था। गुणवत्ता के मानको की भारी अनदेखी गई। प्रति कट्टा किसानों से 100 ग्राम से 900 ग्राम तक ज्यादा तौल किया गया था। बोरों में स्टेन्सिल लगाने का काम समिति का है, लेकिन यह काम किसानों से किया जा रहा था। धान को पानी से बचाने के लिए ड्रेनेज की समुचित व्यवस्था नहीं की गई थी। धान की भूंसी के उपलब्ध नहीं रहने पर पत्थर अथवा ईंट से ड्रेनेज की व्यवस्था की जा सकती थी। इस प्रकार पुरगांव में अव्यवस्था के लिए दोषी फड़ प्रभारी मयाराम साहू एवं कम्प्यूटर आपरेटर पुरूषोत्तम साहू के विरूद्ध बिलाईगढ़ थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है.

हमसे जुड़े :-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here