कलेक्टर सहित जिला अधिकारियों के घर दीपावली में होगे गोबर के दीये से रोशन
कलेक्टर सहित जिला अधिकारियों ने खरीदें गोबर से निर्मित दीये

 

महासमुन्द-विकासखण्ड के ग्राम कछारडीह के महिला स्व-सहायता समूह के सदस्यों ने आज जिला कार्यालय पहुंच कर कलेक्टर सुनील कुमार जैन से सौजन्य मुलाकात करने की इच्छा जाहिर की। इस दौरान कलेक्टर  जैन अधिकारियों की समय-सीमा की बैठक ले रहे थे। कलेक्टर  जैन ने महिला स्व-सहायता समूह के सदस्यों को बैठक हाल में बुलवाया। महिला स्व-सहायता समूह के सदस्यों ने कलेक्टर को बताया कि प्रशिक्षण के उपरांत उनके द्वारा आदर्श गौठान कछारडीह के गोबर से दीये, धूप अगरबत्ती, गमला, सजावटी वस्तुएं, झूमर, गौरा-गौरी, जैविक वर्मी खाद, गौ-मुत्र से दवाईयां बनाई जा रही है।

कलेक्टर जैन ने महिला स्व-सहायता समूह द्वारा बनाए गए दीये को देखकर उनका उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि महिला समूहों द्वारा मेहनत एवं हुनर से अपनी कलात्मकता और रचनात्मकता को प्रदर्शित किया है, वह काबिले तारीफ है। जिले के नागरिकों को इन सामग्रियों को अवश्य खरीदना चाहिए। यह दीया पर्यावरण की दृष्टि से ‘‘इकोफ्रेण्डली’’ है।

इस अवसर पर उनके दीये को देखने के उपरांत कलेक्टर  जैन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ.रवि.मित्तल, वन मण्डलाधिकारी  मयंक पाण्डेय, अपर कलेक्टर आलोक पाण्डेय सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों ने दीये खरीदे। अधिकारियों ने कहा कि उनके घरों में इस बार महासमुन्द जिले की महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार किए गए गोबर के दीये से दिपावली में अपने घरों तथा परिवार जनों के घरों पर उजियारा लाएंगे।

जय गौ-माता महिला स्व-सहायता समूह के सदस्य  मेमबाई टंडन,  गीता शबर एवं  शीतल ध्रुव ने बताया कि उनके द्वारा बनाए गए गोबर के दीये को कलेक्टर सहित अन्य अधिकारी खरीदेंगे, यह कभी सोचा नही था। आज हमारे द्वारा बनाकर लाए गए गोबर के दीयों को यहां अधिकारियों ने 34 पैकेट को एक हजार 580 रूपए में खरीद कर हमें प्रोत्साहित किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here