ओडिशा में एक युवा जोड़े ने अनोखे तरीके से शादी किया है इस शादी में पुजारी व मंत्रों का जाप नही हुआ.शादी के लिए  संविधान की शपथ लेकर दोनों परिणय सूत्र में बंधे.दोनों ने बड़ी सादगी के साथ शादी की रस्म अदा की.शादी इस मौके पर रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया.शादी में आए मेहमानों ने स्वेच्छा से रक्तदान किया.जिसमे 36 यूनिट ब्लड एकत्रित हुआ।

ये अनोखी शादी ओडिशा के बहरामपुर में हुआ और परिणय सूत्र के अवसर पर मेहमानों और रिश्तेदारों की उपस्थिति में बिप्लब कुमार और अनीता बंधे.बिप्लब फार्मास्युटिकल फर्म में और अनीता नर्स का काम करती हैं.शादी के अवसर पर बिप्लब ने कहा हर समाज के लोगो को दहेज से बचना चाहिए साधारण विवाह पर्यावरण के अनुकूल होते हैं क्योंकि वहां कोई पटाखे या तेज संगीत नहीं होता है.शादी में हमने बारातियों से परहेज किया सभी को एक नेक काम के लिए रक्तदान करना चाहिए।’

अनीता ने भी खुशी जाहिर करते हुए कहा कि वो अलग तरीके से अपने नए जीवन की शुरुआत कर रही हैं.’मुझे खुशी है कि मैंने अपना नया जीवन रक्तदान शिविर के आयोजन के नेक कार्य के साथ शुरू किया.इस तरह की शादियां दूसरों के लिए एक उदाहरण होना चाहिए.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here