Home छत्तीसगढ़ कभी ग्राम सराईपाली में शिक्षक थे उस जगह पर आज पहुंचें कलेक्टर...

कभी ग्राम सराईपाली में शिक्षक थे उस जगह पर आज पहुंचें कलेक्टर बनकर

गांव के बुजूर्गों से मेल-मिलाप कर की आत्मीय बातचीत

0
202
कभी ग्राम सराईपाली में शिक्षक थे उस जगह पर आज पहुंचें कलेक्टर बनकर

महासमुन्द- कलेक्टर डोमन सिंह ने ग्राम सराईपाली पहुंचकर अपनी लगभग 35 साल पुरानी यादों को ताजा किया। उन्होंने गांव की बुजूर्गों से मेल-मिलाप कर आत्मीय बातचीत की। उन्होंने वो स्कूल की भी याद ताजा की जिस स्कूल में उन्हांेंने आज से लगभग 35 वर्ष पहलें सहायक शिक्षक के रूप में गांव के बच्चों को पढ़ाया था।

जनपद पंचायत सरायपाली में PM आवास योजना के लिए दावा-आपत्ति 24 तक

कभी ग्राम सराईपाली में शिक्षक थे उस जगह पर आज पहुंचें कलेक्टर बनकर

उनके जहन में गांव की एक-एक पगडण्डी और अधकच्चें मकान स्मृति पटल में घूम रहें थे। काफी देर तक वे गांव के बुजूर्गों से स्कूल और स्कूल के पास गुरूजी के रहनें के लिए मकान के बारें में पूरी तन्मयता से चर्चा करते रहें। कलेक्टर ने उस काल के मुखिया पटेल को भी याद किया। लोगों ने बताया कि वे अब इस दुनिया में नहीं हैं। कलेक्टर डोमन सिंह ने बुजूर्ग गणेश राम पटेल के घर जाकर उनसे मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य का हालचाल जाना।

अलुमनी समिति द्वारा किया गया आमसभा का आयोजन व पदाधिकारी का निर्वाचन

कभी ग्राम सराईपाली में शिक्षक थे उस जगह पर आज पहुंचें कलेक्टर बनकर

गांव के एक बुजूर्ग उनकी सारी बातें सुनते हुए कहा कि उन्हें भी आज याद है कि एक ऐसा शिक्षक लम्बी कदकाठी का बच्चों को पढ़ाने आया था। लेकिन आज तक उस कदकाठी का कोई भी शिक्षक गांव में दुबारा फिर पढ़ानें नहीं आया, इस पर वे मुस्कुराएं।

36 गढ़ के सरकारी अस्पताल में पहली बार हुआ ओपन हार्ट सर्जरी का सफल आपरेशन

कलेक्टर ने सराईपाली में वो घर भी देखा जहां उन्होंने अपने तीन चार माह अपनें शिक्षक काल के दौरान गुजारें थे। बाद में वे आगे की पढ़ाई के लिए गांव से चले गए थे। गांव में अब दूसरें स्थान पर स्कूल का पक्का निर्माण हो गया हैं। यह देखकर उन्हें काफी खुशी हुई। उन्होंने गांव के बुजूर्ग और महिलाओं के आग्रह पर उनके साथ फोटों खिंचवाएं।

हमसे जुड़े :–dailynewsservices.com