Home देश राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार देश का मौसम मार्च माह में...

राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार देश का मौसम मार्च माह में रहेगा इस तरह से

दिल्ली-भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार देश का मौसम मार्च माह तक इस प्रकार रहेगा । वर्षा का पूर्वानुमान 5 से11 मार्च तक मौजूदा पश्चिमी विक्षोभ (डब्ल्यूडी) के प्रभाव के कारण, 4 और 5 मार्च, 2021 को डब्ल्यूएचआर में हल्की छिटपुट वर्षा/बर्फबारी की संभावना है। इसके बाद, एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ 6 मार्च से डब्ल्यूएचआर और आसपास के मैदानी इलाकों को प्रभावित करने और इससे 6 से 8 मार्च के दौरान पूरे क्षेत्र में दूर-दूर तक अच्छी बारिश होने/बर्फबारी होने की संभावना है।

6 एवं 7 मार्च को जिला के 135 वर-वधु अग्नि को साक्षी मान लेगे फेरे सात

जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में 07 मार्च को बिजली कड़कने और बर्फबारी के साथ कहीं-कहीं पर भारी बारिश होने की संभावना है। 06 और 07 मार्च को पंजाब में छिटपुट से लेकर कहीं-कहीं हल्की बारिश/ बूंदाबांदी होने की संभावना है। उत्तर हरियाणा, चंडीगढ़ और इससे सटे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 07 मार्च को अलग-अलग स्थानों हल्की बारिश / बूंदाबांदी होने की संभावना है।

सोने का गुम्बद बेचने के नाम पर करीब 06 लाख की ठगी,दो गिरफ्तार

इसके बाद, लगातार दो पश्चिमी विक्षोभों से 9 से 15 मार्च तक डब्ल्यूएचआर के प्रभावित होने की संभावना है। इस क्षेत्र में छिटपुट से लेकर दूर-दूर तक अच्छी बारिश होने/ बर्फबारी होने की संभावना है। पहले सप्ताह के दौरान पूर्वोत्तर राज्यों में कुल मिलाकर दूर-दूर तक अच्छी बारिश होने और कहीं-कहीं गरज/बजली चमकने की संभावना है। पहले सप्ताह के दौरान डब्ल्यूएचआर और पूर्वोत्तर राज्यों में कुल मिलाकर वर्षा की गतिविधि सामान्य से अधिक रहने की संभावना है।

सुशांत सिंह राजपूत से संबंधित ड्रग मामले में आरोप पत्र कोर्ट में दायर, चार्जशीट में 33 अभियुक्त

राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार देश का मौसम मार्च माह में रहेगा इस तरह से

प्राकृतिक प्रकोप,आग लगना या वन्य प्राणियों से मकान नष्ट होने पर आर्थिक अनुदान

11-13 मार्च 2021 के दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड और ओडिशा में अलग-अलग स्थानों पर हल्की बारिश होने बादल गरजने और बिजली चमकने की संभावना है।

वर्षा का पूर्वानुमान 12 से 18 मार्च तक दूसरे सप्ताह के दौरान जम्मू और कश्मीर में सामान्य से अधिक तथा शेष डब्ल्यूएचआर और पूर्वोत्तर राज्यों में सामान्य से अधिक बारिश होने की संभावना है। देश के शेष हिस्सों में सामान्य से कम या सामान्य बारिश होने की संभावना है। वर्षा का पूर्वानुमान19 से 25 मार्च तक तीसरे सप्ताह में, जम्मू और कश्मीर सहित भारत के अधिकांश हिस्सों और उत्तरी भारत के आसपास के हिस्सों में सामान्य के कम बारिश होने की संभावना है। किसी प्रमुख पश्चिमी विक्षोभ की कमी में दक्षिण-पश्चिमी प्रायद्वीपीय भारत और पूर्वोत्तर राज्यों में सामान्य से लेकर सामान्य से अधिक बारिश होने की संभावना है।

म्युनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स में छत्तीसगढ़ के 2 शहरों का उत्कृष्ट प्रदर्शन

वर्षा का पूर्वानुमान 26 से 31 मार्च तक चौथे सप्ताह में, जम्मू-कश्मीर और पंजाब के कुछ हिस्सों, हरियाणा, राजस्थान के कुछ हिस्सों, पूर्वोत्तर राज्यों के कुछ हिस्सों, महाराष्ट्र और प्रायद्वीपीय भारत के दक्षिणी हिस्सों में सामान्य से अधिक बारिश होने की संभावना है। देश के शेष हिस्सों में सामान्य से कम या सामान्य बारिश होने की संभावना है। अगले दो सप्ताह के दौरान उत्तर हिंद महासागर में किसी भी तरह का चक्रवात आने की संभावना नहीं है।

हमसे जुड़े :–https://dailynewsservices.com/