Home देश इस राज्य में इस दिन महिलाओं एवं बालिकाओं को मिलेगी निःशुल्क बस...

इस राज्य में इस दिन महिलाओं एवं बालिकाओं को मिलेगी निःशुल्क बस यात्रा की सौगात

जयपुर- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में आगामी 8 मार्च को राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की बसों में यात्रा करने वाली सभी महिलाओं एवं बालिकाओं को निःशुल्क यात्रा की सौगात दी है।

मुख्यमंत्री गहलोत ने इस संबंध में प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। वातानुकूलित एवं वॉल्वो के अतिरिक्त निगम की समस्त साधारण एवं द्रुतगामी बसों में राजस्थान की सीमा तक इस दिन यात्रा करने वाली सभी महिलाओं एवं बालिकाएं इस निःशुल्क सुविधा का लाभ उठा सकेंगी।

आने वाला वक्त ईमानदार राजनीति का, वर्तमान चुनाव ने किया साबित -AAP

 कॉस्मेटिक निर्माण पर औषधि नियंत्रण संगठन की कार्यवाही

जयपुर-औषधि नियंत्रण संगठन के नकली दवा प्रकोष्ठ की जयपुर एवं बांरा टीम ने बारां के नियाडी बावडी नयापुरा में बिना लाईसेंस के कॉस्मेटिक प्रोडक्ट जासमीन मेहन्दी कोन के निर्माण पाये जाने पर छापामार कार्यवाही की गयी।

स्काउट्स-गाइड्स का तृतीय सोपान प्रशिक्षण एवं जांच शिविर आयोजन सम्पन्न

औषधि नियंत्रक राजाराम शर्मा ने बताया कि बांरा जिले में बिना लाईसेंस के कॉस्मेटिक प्रोडक्ट जासमीन मेहन्दी कोन के निर्माण की शिकायत मिलने पर औषधि नियंत्रण अधिकारियों की टीम जांच के लिए भेजी गयी। टीम ने मौके पर पुलिस इमदाद के साथ छापा मारा। घर में जासमीन मेहन्दी कोन के नाम से कोस्मेटिक प्रोडक्ट का निर्माण करना पाया गया एवं रॉ मेटेरियल के क्रय बिल एवं जासमिन मेहंदी कोन का विक्रय रिकॉर्ड प्रस्तुत नहीं किया गया।

औषधि नियंत्रक ने बताया कि कोस्मेटिक प्रोडक्ट निर्माण के लिये औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम 1940 एवं प्रसाधन सामग्री नियमावली 2020 के अन्तर्गत निर्माण लाइसेंस नहीं पाये गये। टीम ने दो कास्मेटिक प्रोडक्ट के नमूने जांच हेतु लिया जाकर शेष फिनिश्ड गुड्स स्टॅाक एवं मेहंदी कोन निर्माण मे प्रयुक्त होने वाले आर्टिकल व पैकिंग मेटेरियल आदि को नियमानुसार जब्त किया।

वन विभाग के गश्ती दल ने वन में आग लगा कर शिकार करने वाले 9 लोगों को पकड़ा

जप्त जासमिन मेहन्दी कोन का अनुमानित मूल्य लगभग 11,700 रुपये है। जप्त की गई औषधियों की अभिरक्षा के आदेश हेतु न्यायालय में आवेदन किया है। तत्पश्चात् प्रकरण में जांच उपरान्त औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम 1940 व प्रसाधन सामग्री नियमावली 2020 के तहत जांच कर न्यायिक कार्यवाही की जायेगी। टीम में जयपुर से सहायक औषधि नियंत्रक अनूप रावत, औषधि नियंत्रण अधिकारी  मनीष मोदी एवं सॉवरमल एवं बांरा जिले के औषधि नियंत्रण अधिकारी सुरेन्द्र पारेता एवं  नरेन्द्र कुमार राठौर शामिल थे।

हमसे जुड़े :–https://dailynewsservices.com/