Home छत्तीसगढ़ बलौदाबाजार जिला में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी...

बलौदाबाजार जिला में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू

बच्चों के इलाज़ के लिए तैयार किए जा रहें दो अलग वार्ड

बलौदाबाजार-कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने प्रशासनिक तैयारी शुरू करनें के निर्देश स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों को दिए है। उन्होंने जिलें में कोरोना की मौजूदा स्थिती के साथ भविष्य की तैयारियों की विस्तृत समीक्षा की। बैठक में मुख्य रूप से संभावित तीसरी लहर के दौरान बच्चों को स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने एवं और.अधिक चिकित्सा संसाधनों को जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। इस दौरान बैठक में विषय विशेषज्ञों से चर्चा कर कुछ महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए गए है।

इसके तहत मरीज बच्चों को उम्र के हिसाब से 2 वर्गों में विभाजित किया गया है। पहला शून्य से लेकर 5 वर्ष तक के बच्चों एवं 5 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों में। शून्य से लेकर 5 वर्ष के बच्चों का इलाज जिला मुख्यालय में स्थित डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल (एमसीएच बिल्डिंग) में एवं 5 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों का इलाज 500 बिस्तर नवीन कोविड हॉस्पिटल मंडी परिसर में होगा।

“मोटू और पतलू” का अनूठा अभियान,घूमें बाजार और दिए लोगों को फूल- जानिए क्यों ?

बलौदाबाजार जिला में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू

डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल में दो शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ योगेंद्र वर्मा एवं डॉ भूपेंद्र साहू तैनात रहैंगे इसी तरह 500 बिस्तर हॉस्पिटल में वरिष्ठ शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ.के टेम्भूरने की तैनाती रहेंगी। इसके साथ ही शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टरों के सहयोग के लिए नवपदस्थ 3 एमबीबीएस डॉक्टरों की भी तैनाती रहेंगी।

बच्चों के लिए अलग डाइट की निःशुल्क व्यवस्था डॉक्टरों की सलाह पर बच्चों के लिए निःशुल्क लिक्विड डाइट की व्यवस्था रहेंगी।इसके लिए सीएचएमओ को निर्देशित करतें हुए अलग से रसोईयों की व्यवस्था करनें कहा है। भोजन की गुणवत्ता में किसी भी तरह समझौता नही करनें के निर्देश दिए है।

कोविड केयर हॉस्पिटल में हुआ सुविधाओं का विस्तार,लगे 10 नये वेंटिलेटर मशीन

बलौदाबाजार जिला में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू

बच्चों के साथ अभिभावकों के लिए भी व्यवस्था कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने बच्चों के साथ अभिभावकों को भी रुकवाने की व्यवस्था सुनिश्चित करनें के निर्देश दिए है। इस हिसाब से मंडी हॉस्पिटल में अतिरिक्त बिस्तर अलग से लगाई जा रहीं है। बच्चों के साथ बिस्तर में माँ अथवा कोई भी अभिवादक को केयर टेकर के रूप में रह सकतें है।

दवाइयों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करें कलेक्टर जैन ने सीएचएमओ को निर्देश दिए की बच्चों के इलाज में उपयोग होने वाली सभी दवाईयां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होनी चाहिए। अभी से सीजीएमएससी एवं लोकल पर्चेस के माध्यम से दवाइयों को खरीद कर स्टोर करना प्रारंभ कर दे। ताकि परिस्थिति बिगड़ने पर पूर्व की तरह किसी भी प्रकार के दवाईयों की कमी ना हो। साथ ही प्रर्याप्त मात्रा में बच्चों की वेंटिलेटर की व्यवस्था की जा रही है। अभी वर्तमान में 10 वेंटिलेटर बच्चों के लिए मौजूद है।

ब्लैक राइस पौष्टिक तत्वों से भरपूर होते हैं,दंतेवाड़ा के चार ब्लाक में हो रहा है उत्पादन

बलौदाबाजार जिला में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू
kovid-19 hospital

बैठक में जिला मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी ने आईसीएमआर के द्वारा जारी कोविड से संक्रमित बच्चों की इलाज की नयी गाइडलाइन के बारे मे विस्तृत जानकारी दी गयी। इसी तरह सिविल सर्जन डॉ राजेश अवस्थी ने मौजूदा दौर में पोस्ट कोविड इफेक्ट्स के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी। इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ फरिहा आलम सिद्की,सँयुक्त कलेक्टर टेकचंद अग्रवाल,सीएचएमओ डॉ खेमराज सोनवानी,सिविल सर्जन डॉ राजेश अवस्थी, डीपीएम सृष्टि मिश्रा, बीएमओ डॉ राकेश प्रेमी, सहित तीन शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ.के टेम्भूरने,योगेंद्र वर्मा एवं डॉ भूपेंद्र साहू उपस्थित थे।

हमसे जुड़े :–https://dailynewsservices.com/

Translate »