Home छत्तीसगढ़ OBC एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों का सर्वेक्षण CGQDC Mobile App...

OBC एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों का सर्वेक्षण CGQDC Mobile App में होगा दर्ज

बलौदाबाजार-राज्य शासन के निर्देशानुसार प्रदेश की जनसंख्या में अन्य पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के सर्वेक्षण का कार्य आज से शुरू हो गया। सर्वेक्षण का कार्य 1 सितंबर से 12 अक्टूबर तक किया जाएगा।जिलों में अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों के सर्वेक्षण के लिए पंजीयन शुरू हो गया है।

जिला सांख्यिकी अधिकारी (district statistics officer)सुमीत कुमार मेरावी ने बताया कि छत्तीसगढ़ क्वांटीबायबल डाटा आयोग के मोबाइल एप में व्यक्ति खुद अपनी जानकारी डाल कर पंजीयन करा सकता है। यह CGQDC Mobile App चिप्स द्वारा तैयार किया गया है। एप को प्ले-स्टोर में जाकर डाउनलोड कर निर्धारित प्रारूप में चाही गई जानकारी को अपलोड किया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि सर्वे हेतु पंजीयन के लिए लॉगिन करने के कुछ विकल्प दिए गए है, जिसमें आधार कार्ड, राशन कार्ड और मुखिया का मोबाइल नम्बर का उपयोग किया जा सकता है। इनमें से कोई भी प्रमाण पत्र नहीं होने की स्थिति में अपने मोबाइल नम्बर से भी व्यक्ति सर्वे के लिए पंजीयन करा सकता है।

मेडिकल-डेंटल कालेज में OBC को 27% व् आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को 10%आरक्षण

OBC एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों का सर्वेक्षण CGQDC Mobile App में होगा दर्ज

इसके अलावा चॉइस सेंटर में वेबपोर्टल www.cgqdc.in के जरिए भी गणना के लिए जानकारी दर्ज करायी जा सकती है। निर्धारित प्रारूप में दर्ज जानकारी संबंधित ग्राम पंचायत, नगर पंचायत और नगरीय निकाय के लिए नियुक्त सुपरवाइजर्स के पास स्वयं ही फारवर्ड हो जाएगी। उसके बाद सुपरवाइजर आवेदक के द्वारा उपलब्ध करायी गई जानकारी का भौतिक सत्यापन करेगा। उसके बाद डाटा सर्वर में सुरक्षित कर लिया जाएगा और इसी आधार पर अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की सूची तैयारी की जाएगी।

आवेदन लेने के पूरी प्रक्रिया 1 सितबंर से 12 अक्टूबर तक चलेगी। ऑनलाईन पंजीकरण एवं डाटा संग्रहण तथा सत्यापन का कार्य 1 सितंबर से 12 अक्टूबर, डाटा संग्रहण के बाद ग्राम पंचायतवार, वार्डवार सूची का प्रारंभिक प्रकाशन सभी ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत,तहसील और जोन कार्यालय में 30 अक्टूबर तक किया जाएगा। प्रारंभिक प्रकाशन पर दावा एवं आपत्ति 16 नवम्बर तक प्राप्त की जाएगी। प्राप्त दावा आपत्ति का निराकरण 30 नवम्बर और ग्राम पंचायत क्षेत्र में ग्रामसभा, नगरीय निकाय क्षेत्र में पीआईसी और एमआईसी द्वारा 20 दिसंबर तक अनुमोदन किया जाएगा।

हम भारत को विस्तारित क्षमता के साथ आर्थिक रूप से मजबूत बनाना चाहते-रेल मंत्री

OBC एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों का सर्वेक्षण CGQDC Mobile App में होगा दर्ज

ग्रामीण क्षेत्र में जनपद स्तर एवं नगरीय क्षेत्र में निकाय स्तर पर डाटा संकलन का कार्य 31 दिसंबर तक किया जाएगा। जनपद और निकाय स्तर के जिला स्तर पर डाटा 14 जनवरी 2022 तक प्रेषित किया जाएगा। राज्य स्तर से नोडल अधिकारियों द्वारा डाटा आयोग को 29 जनवरी 2022 तक सौंपा जाएगा।

बलौदाबाजार एवं पलारी जनपद में हुई प्रशिक्षण- सर्वेक्षण को लेकर बलौदाबाजार एवं पलारी जनपद में अधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान ट्रेनर के रूप में उपस्थित सुमीत मेरावी ने सर्वेक्षण के दौरान किन छोटी छोटी बातों को विशेष रूप से ध्यान रखना है एवं कुछ होने वाले समस्याओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी। उन्होंने कहा कि ध्यान रहें किसी भी स्थिती में कोई भी व्यक्ति सर्वेक्षण में नही छूटना चाहिए। सभी को पोर्टल के बारे में प्रेजेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी गई।

तिजहारिन आंगनबाड़ी कार्यकर्ता-सहायिकाएं व्रत के साथ करेगी आंदोलन राजधानी में

इस दौरान बलौदाबाजार जनपद के अंर्तगत कुल 104 ग्राम पंचायतों के 27 पर्यवेक्षक एवं 2 नोडल अधिकारी शामिल हुए। इसी तरह पलारी जनपद के अंर्तगत कुल 103 ग्राम पंचायतों के 19 पर्यवेक्षक प्रशिक्षण में शामिल थे। इस सर्वेक्षण में मुख्य रूप से पंचायत, कृषि,आरईएस विभागों के मैदानी अमला को लगाया गया हैं। इस दौरान बलौदाबाजार जनपद पंचायत CEO अनिल कुमार, पलारी CEO सुरेश कंवर समेत सम्बंधित अधिकारी कर्मचारी गण उपस्थित थे।

हमसे जुड़े :–https://dailynewsservices.com/

Translate »