महासमुंद- कृषि उपज मंडी समिति महासमुंद के सचिव ने जारी प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से बताया है कि महामाया एग्रो टेक साराडीह के प्रोपराइटर तेज प्रकाश चन्द्राकर ने कृषकों से क्रय किए गए धन का भुगतान भू राजस्व बकाया राशि के रूप में वसूल कर भुगतान करने हेतु प्रकरण कलेक्टर जिला महासमुंद के माध्यम से न्यायालय तहसीलदार महासमुंद में प्रकरण कृषि उपज मंडी समिति महासमुंद द्वारा अपने ज्ञापन क्रमांक 1355 महासमुंद दिनांक 7 नवंबर 2019 को पेश किया है अब तक 57 कृषकों की शिकायत इस कार्यालय को प्राप्त हुआ था जिसके 1 करोड़ 61लाख 75 हजार 265 रुपए वसूली योग्य है उपरोक्त राशि को भुगतान नहीं करने की स्थिति में उनके अचल संपत्ति जिस की सूची इस पत्र के साथ संलग्न है उसे कुर्की कर भुगतान किया जाएगा कृषि उपज मंडी समिति महासमुंद द्वारा इस विषय पर की गई जानकारी की गई कार्यवाही पत्र इस पत्र के साथ संलग्न है

https;राजधानी की ट्रेफिक व्यवस्था सुदृढ़ करने मुख्य सचिव ने अधिकारियों की ली बैठक

https;-81वर्षीय महिला की पिटाई के मामले में 21 लोग गिरफ्तार-जानिए

ज्ञात हो कुछ दिन पहले पीड़ित किसानो ने रैली निकालकर राजधानी में प्रधानमंत्री भारत सरकार नई दिल्ली के नाम महामहिम छत्तीसगढ़ शासन को ज्ञापन सौपा था जिसमे महासमुंद एवं बागबाहरा ब्लॉक के कई गांवों के लगभग 40 किसानों ने महामाया एग्रो ट्रेडर्स प्रकाश चन्द्राकर से  लगभग 1,42,16,082 का भुगतान शेष है जिसका आज तक भुगतान नहीं किया गया है इसके बारे में किसानो का प्रतिनिधि मंडल राज्यपाल से चर्चा किया गया था.

किसानों के द्वारा  धान विक्रय की राशि के संबंध में मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन एवं मंडी बोर्ड रायपुर को अपनी 18 बिंदुओं के साथ जांच के संबंध में लिखित पत्र प्रेषित किया गया है इस फर्जीवाड़ा का सूक्ष्म जांच कराकर किसानों के धान विक्रय कि उपरोक्त शेष राशि का भुगतान शीघ्र कराने की बात कही गई थी.

https;-पश्चिम बंगाल:बुलबुल चक्रवात से भारी तबाही, लाखों परिवार प्रभावित, 10 की मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here