Home छत्तीसगढ़ सुआ व् राउत नाचा में कलाकारों ने दी एक से बढ़कर एक...

सुआ व् राउत नाचा में कलाकारों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दर्शकों ने की प्रशंसा

छ्ग की प्राचीन कला और संस्कृति छत्तीसगढ़ की अनमोल धरोहर है

महासमुंद। हाईस्कूल मैदान में लोक महोत्सव के तहत आयोजित सुआ व् राउत नाचा प्रतियोगिता में एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियों ने दर्शकों का मनमोह लिया। दोपहर से शुरू हुई प्रतियोगिता का लोग लुत्फ उठाते रहे। इसके पहले संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने प्रतियोगिता का शुभांरभ किया।

इन टीमों ने दी शानदार प्रस्तुति

सुआ नृत्य प्रतियोगिता में जय महामाया सुआ दल लाफिनकला, सीता सुआ समिति सोरिद, नवा अंजोर सुआ नृत्य परसकोल, जय गौरी-गौरा सुआ परिवार नांदबारू, जय मां चंपई सुआ पार्टी अरंड, तुलसी के बिरवा सुआ दल लाफिनकला, माटी के चोला सुआ दल परसाडीह, नवज्योति सुआ दल अमलोर, जय मां सरस्वती सुआ समिति गोपालपुर, जय भवानी सुआ दल वार्ड 18 महासमुंद तथा राउत नाचा में कृष्ण बलराम राउत नाचा लहंगर, राधा कृष्ण राउत नाचा भटगांव, जय मां खल्लारी राउत नाचा सोरिद, कृष्ण कन्हैया राउत नाचा बावनकेरा, श्रीराम कृष्ण राउत नाचा जुनाडीह, ग्वाल बाल राउत नाचा सरईपाली, बाल कृष्ण राउत नाचा पिरदा, राधा कृष्ण अहिर राउत नाचा कौंदकेरा व बाल किशोर राउत नाचा बंसुलाडबरी की टीम ने शानदार प्रस्तुति दी।

विवाह के लिए मात्र 15 शुभ मुहूर्त है देवउठनी एकादशी से वर्षांत तक

सुआ व् राउत नाचा में कलाकारों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दर्शकों ने की प्रशंसा

36 गढ़ की संस्कृति अनमोल धरोहर

संसदीय सचिव चंद्राकर ने अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश में छत्तीसगढ़िया व किसान के बेटा मुख्यमंत्री बने हैं, तब से छत्तीसगढ़ की संस्कृति को संरक्षित किया है। छ्ग की प्राचीन कला और संस्कृति छत्तीसगढ़ की अनमोल धरोहर है। राज्य सरकार छ्ग की प्राचीनतम परंपरा, संस्कृति और जीवन मूल्यों को सहेजते हुए उनके विकास के लिए लगातार प्रयास कर रही है। इसी तारतम्य में इस तरह का प्रतियोगिता आयोजित किया गया है। इससे निश्चित तौर पर प्रतिभाएं सामने आएगी।

पढाई का जिन्दगी में क्या अर्थ होता है इसको समझा एक फल-विक्रेता ने,मिला पद्म श्री पुरस्कार

सुआ व् राउत नाचा में कलाकारों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दर्शकों ने की प्रशंसा

इनका रहा योगदान

राउत नाचा प्रतियोगिता के निर्णायक राजेश्वर खरे, डॉ विकास अग्रवाल, वीके असगर तथा सुआ नृत्य प्रतियोगिता के निर्णायक धनराज साहू, बीआर साहू व पुष्पलता भार्गव थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष डॉ रश्मि चंद्राकर, अनिता रावटे, सेवनलाल चंद्राकर, दाउलाल चंद्राकर, संजय शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष खिलावन बघेल, ढेलू निषाद, खिलावन साहू, राशि महिलांग का योगदान रहा ।

ठहाकों के मेघ छाए और ग़ज़लों का बसंत बिखरा महासमुंद की मेघ बसंत कॉलोनी में

सुआ व् राउत नाचा में कलाकारों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दर्शकों ने की प्रशंसा

इसके अलावा अरुणा शुक्ला, सोमेश दवे, राजू साहू, कमल प्रजापति, तेजन साहू, राहुल ध्रुव, रामजी साहू, गोवर्धन साहू, कमलेश साहू, मधु शर्मा, तारिणी चंद्राकर, बृजेन हीरा बंजारे, अन्नू चंद्राकर, तारा चंद्राकर, लता कैलाश चंद्राकर, भारती सोनी, साधना सिंह नैनी, ममता चंद्राकर, अजय थवाईत, निर्मल जैन, सुरेंद्र मानिकपुरी, टेकराम सेन, रूपेश तिवारी, रेखराज शर्मा, भागवत जगत, सरिता तिवारी, हितेश साहू आदि का सराहनीय योगदान रहा।

प्रतियोगिता में सभी मंडलियों को मिलेगी सम्मान राशि

सुआ व् राउत नाचा आयोजन समिति के दाऊलाल चंद्राकर, संजय शर्मा व कमल प्रजापति ने जानकारी देते हुए बताया कि यह प्रतियोगिता दोपहर दो बजे से रात 10 बजे तक आयोजित किया गया है। प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार 21000 रुपए, द्वितीय पुरस्कार 15000 रुपए व तृतीय पुरस्कार 10000 रुपए प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा सभी मंडलियों को 1500 रुपए सम्मान राशि प्रदान की जाएगी। प्रतियोगिता का समापन 10 नवंबर को होगा।

हमसे जुड़े :–https://dailynewsservices.com/

Translate »