Home छत्तीसगढ़ दवा कंपनी के खिलाफ अपराधिक प्रकरण दर्ज होना चाहिए-अलका चंद्राकर

दवा कंपनी के खिलाफ अपराधिक प्रकरण दर्ज होना चाहिए-अलका चंद्राकर

दुर्गेश निषाद द्वारा प्रयोग में लाई गई संबंधित कृषि दवा कंपनी द्वारा उसे आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का प्रयास है

महासमुंद- किसान दुर्गेश निषाद द्वारा आत्महत्या किए जाने से किसानों में भारी नाराजगी है अलका चंद्राकर जिला पंचायत सदस्य एवं प्रदेश उपाध्यक्ष भाजपा महिला मोर्चा ने आगे कहा है कि कांग्रेस राज में कुव्यवस्था के शिकार किसान दुर्गेश निषाद द्वारा आत्महत्या को लेकर किसानों में भारी नाराजगी है यह सिर्फ आत्महत्या नहीं बल्कि दुर्गेश निषाद द्वारा प्रयोग में लाई गई संबंधित कृषि दवा कंपनी द्वारा उसे आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का प्रयास है इसलिए उक्त कंपनी के खिलाफ अपराधिक प्रकरण दर्ज होना चाहिए मृतक किसान दुर्गेश निषाद को राज्य सरकार द्वारा 25 लाख रुपए का मुआवजा राशि शीघ्र प्रदान करें एवं आश्रित के परिवार को शासकीय नौकरी प्रदान करे.

13 अक्टूबर के बाद शहर व् खेत में नही दिखेगे सूअर पालिकाध्यक्ष का फरमान

अलका ने बयान जारी कर कहा आखिर सरकार कब जागेगी यह किसान की समस्या नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ के लाखों किसानों जो फसल में तरह-तरह के किट बीमारियों के प्रकोप होने पर निरंतर कीटनाशक हाथ छिड़काव कर रहे हैं नकली दवाई नकली बीज नकली खाद का कृषि बाजार में बोलबाला है सहकारी समिति एवं विभिन्न प्रमाणित बीज कंपनी द्वारा उपयोग में लाया गया बीज जो किसानों ने रोपित किया था लेकिन धान की फसल खराब होने की लगातार शिकायत आ रही हैं

राज्य में 27 लाख 82 हजार से अधिक घरों मे कोरोना सर्वे के लिए टीम पहुंची-

मैदानी स्तर पर कोई जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी नहीं दिखता जो खेतों में जाकर अवलोकन करें अभी कुछ दिन पूर्व बेमौसम बारिश तूफान से पके हुए ध्यान गिर कर पानी में डूब चुके हैं एवं भुरा माहो ब्लास्ट से व्यापक क्षति हुई है शासन एवं प्रशासन से अनुरोध है कि इस विषय पर तत्काल संज्ञान ले एवं किसान हित को ध्यान में रखते हुए हैं 1 नवंबर से तत्काल धान खरीदी प्रारंभ करें एवं 2500 की राशि एक मुफ्त प्रदान करें साथ ही साथ प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान खरीदी एवं बचे हुए 2 साल बोनस राशि प्रदान करें

हमसे जुड़े :–dailynewsservices.com