Home छत्तीसगढ़ अंग्रेजी नववर्ष का प्रारंभ विगत 7 वर्षों से हो रहा है रामचरितमानस...

अंग्रेजी नववर्ष का प्रारंभ विगत 7 वर्षों से हो रहा है रामचरितमानस के आयोजन से

जब तक हम अध्यात्म को अपने जीवन में अंगीकार नहीं करेंगे तब तक हमारा जीवन सुखमय नहीं होगा ।Unless we adopt spirituality in our life, our life will not be happy.

बागबाहरा-शिवम गणेश समिति खैरेट खुर्द द्वारा अंग्रेजी (पाश्चात्य) नववर्ष के प्रारंभ अखिल ब्रह्मांड नायक प्रभु श्री रामचंद्र जी के अमृत कथा के आयोजन से प्रारंभ हुआ इस अवसर पर मुख्य अतिथि जिला पंचायत सदस्य अलका चंद्राकर टीके लाल चक्रधारी, ईश्वर ठाकुर द्वारा श्री रामचंद्र जी के पूजा अर्चना कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई ।

इस अवसर पर अलका चंद्राकर ने कहा बड़ी खुशी की बात है गत 7 वर्षों से अंग्रेजी नववर्ष का प्रारंभ के दिन खैरा खुर्द के युवाओं द्वारा रामचरितमानस के आयोजन से दिन की शुरुआत करते हैं ।जब पूरा विश्व पाश्चात्य शैली में नववर्ष का शुरुआत करते हैं, तो दूसरी तरफ ग्राम वासियों द्वारा हमारे इष्ट देव प्रभु श्रीराम के कथा वाचन से पूरा ग्राम अयोध्या की भांति राममय में हो जाता है ।आज हमें प्रभु श्री राम के चरित्र को अंगीकार करने की जरूरत है, हमें माता सीता के त्याग को भाई लक्ष्मण भरत के स्नेह को अपनाने की जरूरत है ।

छात्राओं के लिए नववर्ष का पहला दिन रहेगा यादगार कलेक्टर ने पढाया कामर्स सब्जेक्ट

अंग्रेजी नववर्ष का प्रारंभ विगत 7 वर्षों से हो रहा है रामचरितमानस के आयोजन से

माता वैष्णो देवी भवन में हुई भगदड़ से 12 श्रद्धालु की मौत PM ने जारी की अनुग्रह राशि

संपूर्ण ब्रह्मांड को निश्चल प्रेम त्याग योग वैराग्य के अद्भुत आदर्श प्रस्तुत करने वाले श्री रामचंद्र जी के एक भी गुण को अपने जीवन में उतारते हैं ,तो हमारा जीवन धन्य हो जाता है । प्रभु श्री राम ने पूरे विश्व को मर्यादा का पाठ पढ़ाया है,  हमारे जितने हिंदू धर्म ग्रंथ है चाहे रामायण हो, गीता हो, वेदों पुराणों ,उपनिषदों, सभी ने हमें सही मार्ग पर चलने का प्रेरणा देते हैं । आज पूरा ग्राम राम मय लग रहा है आज हम देखते हैं ,कि लोग भौतिकवादी होते जा रहे हैं जब तक हम अध्यात्म को अपने जीवन में अंगीकार नहीं करेंगे तब तक हमारा जीवन सुखमय नहीं होगा ।

अयोध्या में पुन भव्य राम मंदिर बनने जा रहा है जो हम सब के लिए गौरव की बात है इस अवसर पर टिके लाल चक्रधारी ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया इस अवसर पर नरेश चंद्राकर, नूतन साहू ,ईश्वर ठाकुर, कामता साहू, प्रेम शंकर निषाद ,खेमराज ,परमेश्वर ,संतोष चंद्राकर ,भागवत चक्रधारी, ललित चंद्राकर, नेतराम साहू, अनिल सिन्हा, मोर सिंह ठाकुर, लक्ष्मीनारायण, गुलाब निषाद,  रामविशाल, खिलेश्वर साहू ,धनेश्वर साहू आदि उपस्थित थे ।मंच का संचालन धनराज साहू ने किया ।

हमसे जुड़े :

आपके लिए /छत्तीसगढ़/महासमुन्द

Translate »