Home खास खबर भटक कर गांव आ पहुंचे चीतल को मिला नया जीवन वन विभाग...

भटक कर गांव आ पहुंचे चीतल को मिला नया जीवन वन विभाग ने जंगल ले जाकर छोड़ा

बलौदाबाजार-जंगल से भटक कर गांव आ पहुंचे एक चीतल को वन विभाग की टीम ने सुरक्षित रूप से बचाया है। लगभग 4 साल के नर चितल को अपने कब्जे में लेकर विभाग की उड़न दस्ता दल ने नजदीक के जंगल में विचरण के लिए मुक्त कऱ दिया है। वन मण्डलाधिकारी अरविन्द व्यास ने बताया कि बलौदाबाजार वन परिक्षेत्र में जंगल से भटक कर एक चीतल आज सवेरे ग्राम कोहरौद आ पहुंचा। लगभग 4 बरस का नर चीतल गांव के आदिवासी किसान  रूपचंद पैकरा के निवास पर शरण लिये हुये था।

https;-1700 करोड़ रुपए का बैंक धोखाधड़ी मामले में हैदराबाद से दो लोगों हुए गिरफ्तार

रूपचंद पैकरा ने जंगली जानवर को सुरक्षित रखकर वन विभाग तक इसकी सूचना पहुंचवाई। वन विभाग ने तत्काल हरकत में आते हुए रेंजर राकेश चैबे के नेतृत्व में टीम कोहरौद के लिए रवाना किया। टीम ने गंाव पहुंचकर रूपचंद के कब्जे से चीतल अपने सुपुर्द में लिया। चीतल के स्वास्थ्य की जांच की गई। कहीं पर भी चोट के निशान नहीं पाये गये। बाकायदा इसका पंचनामा एवं फोटोग्राफी भी कराया गया। चीतल के पूर्ण स्वस्थ होने का यकीन हो जाने के बाद इसे शासकीय वाहन से ले जाकर धाराशिव के जंगल में सुरक्षित छोड़ दिया गया। वन मण्डलाधिकारी ने वन्य पाणी की सुरक्षा में किसान रूपचंद पैकरा के योगदान की सराहना की है और उन्हें सार्वजनिक कार्यक्रम में सम्मानित किये जाने की घोषणा की है।

https;-इंडोनेशिया मास्‍टर्स सुपर-500 बैडमिंटन में पी.वी. सिंधु व् साइना नेहवाल अपने-अपने मैच खेलेंगी

हमसे जुड़े ;-

Translate »