दिल्ली:उपभोक्ता कार्य विभाग में सचिव  अविनाश के. श्रीवास्तव ने आज राज्यों की मांग का आकलन करने के लिए राज्य सरकारों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। सचिव ने इस संबंध में 23 नवम्बर, 2019 को सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र भी लिखा है। एमएमटीसी ने मिस्र से 6090 एमटी प्याज की पहली खेप के लिए ऑर्डर दिया है जो मुंबई के नावा शेवा (जेएनपीटी) पर पहुंचेगी। प्रति किलोग्राम 52-55 रुपये के एक्स-मुंबई रेट पर वितरण के लिए राज्य सरकारों को प्याज की पेशकश की जा रही है। प्याज को प्रति किलोग्राम 60 रुपये के एक्स-दिल्ली रेट पर भी उपलब्ध कराया जाएगा। राज्य सरकारें स्वयं ही संबंधित स्थान से स्टॉक हासिल कर सकती हैं और इसके साथ ही आवश्यकता पड़ने पर नैफेड के जरिये ढुलाई की सुविधा पाने का भी विकल्प उनके पास होगा। आयातित प्याज की आपूर्ति दिसम्बर महीने के आरंभ से शुरू होगी.

वैसे तो दिल्ली में राज्य सरकार की ओर से इस बारे में अपनी मांग प्रस्तुत करना अभी बाकी है, लेकिन नैफेड ने सूचित किया है कि वह अपने स्वयं के विक्रय केन्द्रों के साथ-साथ मदर डेयरी, केन्द्रीय भंडार औऱ एनसीसीएफ के केन्द्रों के जरिये भी प्याज की खुदरा बिक्री करेगा। प्रथम सप्ताह के लिए विभिन्न राज्य सरकारों की ओर से अब तक 2265 एमटी की कुल मांग प्राप्त हुई है जिसमें  आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, केरल एवं सिक्किम से आई मांग  शामिल है। यही नहीं, इसमें दिल्ली में आपूर्ति के लिए नैफेड की ओर से आई मांग भी शामिल है। अन्य राज्यों से जल्द से जल्द अपनी मांग प्रस्तुत करने का अनुरोध किया गया है, ताकि केन्द्र सरकार इसे सुनिश्चित कर सके.

यहाँ पढ़े :किसानों के साथ किया हर वादा होगा पूरा :  भूपेश बघेल, किसानों को हर हालत में प्रति क्विंटल धान का 2500 रूपए देंगे

यहाँ पढ़े :निगरानी दलो की कार्यवाही तेज जिले में अबतक 24 हजार 686 बोरा धान जब्त-

यहाँ पढ़े :पंच, सरपंच, अध्यक्ष जनपद पंचायत, सदस्य जनपद पंचायत एवं जिला पंचायत सदस्य आरक्षण वर्ग सूची जारी-

यहाँ पढ़े :सिरपुर में सुविधाओं का विस्तार करने पर विधायक ने जताया सीएम का आभारयहाँ पढ़े :आवासीय कॉलोनी के अनुमोदन की प्रक्रिया हुई सरल,सुगम व पारदर्शी एकीकृत एकल खिड़की प्रणाली का शुभारंभ

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here