इंजीनियरों को रोजगार दिलाने राज्य सरकार की विशेष पहल:मेगा प्लेसमेंट कैंप आज से शुरू

    देश-प्रदेश की लगभग 50 से अधिक प्रतिष्ठान ले रहे है हिस्सा,प्रदेश के शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेजों के 360 इंजीनियर कैंप में हुए शामिल

    रायपुर-छत्तीसगढ़ के युवाओं को राष्ट्रीय स्तर की कम्पनियों में रोजगार उपलब्ध  कराने के लिए राज्य शासन मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के मार्ग-दर्शन में पहली बार आयोजित किए जा रहे दो दिवसीय राज्य स्तरीय मेगा प्लेसमेंट कैंप के पहले दिन आज रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेजों के लगभग 360 इंजीनियरों ने पंजीयन करवाए और कंपनियों द्वारा आयोजित लिखित परीक्षा, समूह चर्चा और साक्षात्कार परीक्षा में हिस्सा लिया। इनमें सिविल ब्रान्च के 70, मेकनिकल के 65, माइनिंग के 19, इलेक्ट्रिकल के 44, कम्प्यूटर साइंस के 30, इनफॉर्मेशन टेक्नालॉजी के 33, इलेक्ट्रिकल एवं इलेक्ट्रानिक्स के 26 और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं टेलिकम्यूनिकेशन के 73 इंजीनियर शामिल है।

    राज्य स्तरीय मेगा प्लेसमेंट कैंप रायपुर सेजबहार स्थित शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय में 21 अक्टूबर और 22 अक्टूबर 2019 को किया जा रहा है। इस कैंप में प्रदेश एवं देश की लगभग 50 से अधिक प्रतिष्ठित कंपनियां भाग ले रही हैं। पहले दिन पाई इनफॉर्मेशन सॉफ्टवेयर कंपनी, किन्सुहब प्राईवेट लिमिटेड, गोल्ड स्टार स्टील प्राईवेट लिमिटेड, गोदावरी स्पात एण्ड पावर लिमिटेड, रायपुर ऑटोमोबाइल डीलर एसोसिएशन, इवैक एलायस लिमिटेड, कैरियर पाइंट, बजरंग पावर लिमिटेड, गौतम प्लास्टिकस्, कमलेश एग्रोटेक, अगला कदम आहूजा ऑटोमोबाइल,  इंटरब्रिज कन्सलटिंग, ठाकरे कन्सलटेंसी प्राईवेट लिमिटेड, एस.एस.एस. इंजीनियरिंग, ओ.आर.आई. प्लास्ट लिमिटेड, महिन्द्रा स्वराज, टेलिपरफॉमेंस सोलर सोल्यूशनस्, निको जायसवाल सहित लगभग 25 से अधिक कंपनियों ने मेगा प्लेसमेंट कैंप मंे हिस्सा लिया। कल 22 अक्टूबर से देशभर की कंपनियां भी हिस्सा लेंगी।

    कार्यशाला में छात्र प्रतिनिधियों को कैंपस प्लेसमेंट के विभिन्न गतिविधियों जैसे- छात्र-छात्राओं तथा कंपनियों के डाटाबेस तैयार करना, कंपनियों के साथ संपर्क स्थापित करना तथा प्लेसमेंट कैंप की अन्य बारीकियों के बारे में राज्य के प्रतिष्ठित संस्थानों भारतीय प्रबंधन संस्थान, राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान तथा अंतर्राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नया रायपुर के प्लेसमेंट सेल के छात्र प्रतिनिधियों द्वारा प्रशिक्षण दिया गया था।

    21 और 22 अक्टूबर को आयोजित प्लेसमेंट कैंप में औद्योगिक प्रतिष्ठानों की अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने हेतु कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विभाग तथा वाणिज्य एवं उद्योग विभाग की संयुक्त बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें भारतीय उद्योग परिसंघ, फिक्की, नैसकॉम, एसोचौम, छत्तीसगढ़ चैम्बर ऑफ कामर्स, छत्तीसगढ़ लघु उद्योग महासंघ एवं छत्तीसगढ़ के अन्य विभिन्न औद्योगिक संघों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया.