इस राज्य में मेडिकल,डेन्टल,नर्सिंग कॉलेज 11 जनवरी से व् स्कुल-कालेज 18 से खुलेगे

नया स्ट्रेन चिंता का विषय, विशेष सतर्कता बरतें- मुख्यमंत्री

प्रदेश के 153 खिलाड़ियों को मिलेगी सरकारी नौकरी CM गहलोत ने लिया निर्णय

जयपुर-मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मंगलवार को मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंस से कोविड-19 की समीक्षा कर रहे थे उन्होंने कहा कि बेहतरीन प्रबंधन और प्रदेशवासियों के सहयोग से राजस्थान में कोरोना की स्थिति काफी नियंत्रण में है। रिकवरी रेट बढ़कर अब तक की सर्वाधिक 96.31 प्रतिशत हो गई है। कुछ जिलों में पॉजिटिव केस शून्य होने के साथ ही अन्य जिलों में भी स्थिति बेहतर है। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने स्कूलाें में 9 से 12वीं तक की कक्षाएं, विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय की अन्तिम वर्ष की कक्षाओं, कोचिंग सेन्टर तथा सरकारी प्रशिक्षण संस्थानों को 18 जनवरी से खोले जाने के निर्देश दिए। साथ ही, वैक्सीनेशन की प्रक्रिया के कारण मेडिकल कॉलेज, डेन्टल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज एवं पैरामेडिकल कॉलेज 11 जनवरी से खोलने के भी निर्देश दिए।

एसपीओ व् दिशा निर्देशका पालन किया जाय

इन सभी शिक्षण संस्थानों में प्रत्येक कक्षा में कुल क्षमता का 50 प्रतिशत उपस्थिति प्रथम दिन तथा शेष 50 प्रतिशत उपस्थिति दूसरे दिन रहेगी। शिक्षकों को संक्रमण की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जरूरी प्रशिक्षण दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी संस्थानों में सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क सहित अन्य हैल्थ प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा जाए तथा इनका संचालन केन्द्र के एसपीओ व् दिशा निर्देश के तहत किया जाना सुनिश्चित करें।

छत्तीसगढ़ से 1000 किसानों का जत्था 07 जनवरी को दिल्ली होगा रवाना

इस राज्य में स्कुल,कालेज 18 से व् मेडिकल,डेन्टल,नर्सिंग कॉलेज 11 जनवरी से खुलेगे

विशाखापट्टनम-निजामुद्दीन-विशाखापट्टनम स्पेशल ट्रेन जनवरी माह में दो बार रहेगी रद्द

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश और प्रदेश में कोविड-19 के नये स्ट्रेन के मामले सामने आना चिंता का विषय है। इसके प्रति किसी भी तरह की लापरवाही बड़ा संकट खड़ा कर सकती है। इसे देखते हुए इस वायरस से अत्यधिक प्रभावित इंग्लैण्ड सहित अन्य देशों से प्रदेश में आए यात्रियों पर विशेष नजर रखी जाए। इन यात्रियों का कोविड टेस्ट एवं सघन स्क्रीनिंग की जाए।

विशेष एहतियात बरतने की आवश्यकता

उन्होंने कहा कि नये स्ट्रेन के कारण इंग्लैण्ड में जिस तरह की भयावह स्थिति पैदा हो गई है और वहां फिर लॉकडाउन लगाना पड़ा है। उससे सबक लेते हुए हमें विशेष एहतियात बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने निर्देश दिए कि नये स्ट्रेन को लेकर प्रदेश की ओर से केन्द्र सरकार को आवश्यक सुझाव जल्द भेजे जाएं। इस अवसर पर मुख्य सचिव निरंजन आर्य, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था सौरभ श्रीवास्तव, शासन सचिव स्वायत्त शासन भवानी सिंह देथा, सूचना एवं जनसम्पर्क आयुक्त महेन्द्र सोनी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

ब्रिटेन से भारत आने वाली उड़ानों पर 7 जनवरी 2021 तक अस्थायी पाबंदी की सिफारिश

हमसे जुड़े :–dailynewsservices.com

WatsApp FLvSyB0oXmBFwtfzuJl5gU

TwitterDNS11502659

Facebookdailynewsservices