महासमुन्द-राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत जिला चिकित्सालय, महासमुंद में कलेक्टर  सुनील कुमार जैन के निर्देशन में 29 दिव्यांग कुष्ठ रोगियों का सफल शल्य क्रिया 24 सितम्बर से 27 सितम्बर 2019 तक क्षेत्रीय कुष्ठ प्रशिक्षण एवं अनुसंधान संस्थान रायपुर के सर्जन, डाॅ. के.एम. काम्बले द्वारा किया गया था।

उक्त 29 मरीजों का शल्य क्रिया पश्चात् फिजियोथेरेपी कराने हेतु जिला चिकित्सालय, महासमुंद में 11अक्टूबर से 23 अक्टूबर 2019 तक शिविर लगाया गया है। इस शिविर में 11 एवं 12.अक्टूबर 2019 को क्षेत्रीय कुष्ठ प्रशिक्षण एवं अनुसंधान संस्थान रायपुर के अनुभवी फिजियोथेरेपिस्ट  कार्तिक घोटवाल द्वारा फिजियोथेरेपी कराया गया तत्पश्चात् जिला चिकित्सालय, महासमुंद के स्थानीय फिजियोथेरेपिस्ट द्वारा 23 अक्टूबर 2019 तक नियमित रूप से फिजियोथेरेपी कराया जावेगा।

शिविर में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अघिकारी, महासमुंद डाॅ एस.पी.वारे द्वारा मरीजो को संबोधित करते हुए कहा गया कि जिस प्रकार से फिजियोथेरेपिस्ट द्वारा एक्सरसाईज करना बताया जा रहा है उसे नियमित रूप से करते रहेंगे तभी शल्य क्रिया का परिणाम अच्छा रहेगा एवं किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो फिजियोथेरेपिस्टों को बताकर अपने शंका का समाधान कर लेवे। उक्त फिजियोथेरेपी शिविर में जिला चिकित्सालय, महासमुंद के सिविल सर्जन, डाॅ. आर.के.परदल एवं जिला कुष्ठ अधिकारी महासमुंद डाॅ. व्ही.पी.सिंह का मार्गदर्शन लगातार मिल रहा है एवं शिविर को सफल बनाने हेतु जिला कुष्ठ सलाहकार  ए.पी.शुक्ला, राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के सभी स्टाफ एवं जिला चिकित्सालय के नर्सिंग स्टाफ नियमित रूप से लगे हुए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here