राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा आज गौरव-ग्राम कण्डेल में गांधी विचार पदयात्रा का आगाज किया गया। मुख्यमंत्री ने पदयात्रा के दौरान शाम 5.00 बजे ग्राम छाती पहुंचकर वहां विशाल आम सभा को संबोधित किया। इस अवसर पर सुपोषण अभियान के तहत राइस मिलर्स एसोसिएशन कुरूद के द्वारा 10 लाख 11 हजार रूपए के चेक उन्हें भेंट किया गया। इसके पहले ग्राम संबलपुर के शहीद  भुजबल सिंह कश्यप के परिजन का भी सम्मान किया गया। इस अवसर पर प्रदेश के केबिनेट मंत्री ताम्रध्वज साहू, मोहम्मद अकबर, रवीन्द्र चौबे, जयसिंह अग्रवाल, जिले के प्रभारी मंत्री  कवासी लखमा सहित वरिष्ठ जनप्रतिनिधिगण मंच पर उपस्थित थे.

मुख्यमंत्री  बघेल ने ग्राम छाती में नवनिर्मित मल्टी युटिलिटी सेंटर के लोकार्पण के उपरांत विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए आगे कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती और वर्ष 1920 में बाबू छोटेलाल श्रीवास्तव के नेतृत्व में किए गए कण्डेल नहर सत्याग्रह ने पूरे मानव समाज को सत्य, अहिंसा और सर्वधर्म समभाव का सद्मार्ग दिखाया। इसके साथ-साथ नैतिक मूल्यों का पाठ पूरे विश्व को दिया, जिसका अनुसरण करके जीवन-दर्शन को बेहतर बना रहे हैं। मुख्यमंत्री ने आम सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश शासन नरवा, गरूवा, घुरवा और बाड़ी के तहत कोई नई योजना लागू नहीं की है, बल्कि पूर्वजों की कार्य-पद्धति कोे आधुनिक ढंग से आगे बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा इस वर्ष भी मेहनतकश किसानों का धान 2500 रूपए प्रतिक्विंटल के मान से समर्थन मूल्य पर खरीदा जाएगा। बघेल ने बताया कि जून माह में प्रवास के दौरान हंचलपुर के स्वसहायता समूह की महिलाओं ने गौठान में खाद बनाने का काम शुरू किया था, सिर्फ चार माह में उन्होंने 18 हजार रूपए की खाद बेची, जो एक बेहतर आय की ओर इंगित कर रहा है। उन्होंने गत 20 अगस्त को दुगली प्रवास का भी जिक्र करते हुए कहा कि जबर्रा में इको-टुरिज्म की घोषणा की गई थी, आज वहां पर काफी संख्या में सैलानियों के द्वारा बुकिंग कराई जा रही है। मुख्यमंत्री  बघेल ने उद्बोधन में खेती की लागत कम करने जैविक खेती को बढ़ावा देने तथा लावारिस पशुओं को सुनिश्चित स्थान देने तथा रोजगार के अवसर मुहैया कराने की बात दोहराई। इसके अलावा उन्होंने क्षेत्र के किसानों के लिए ग्रीष्मकालीन फसल के लिए नहर से पानी छोड़े जाने बात कही.

मुख्यमंत्री ने इसके पहले 03 करोड़ 75 लाख रूपए 40 हजार रूपए की लागत से मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजना के तहत निर्मित मल्टी युटिलिटी सेंटर का लोकार्पण किया। साथ ही जनसम्पर्क विभाग द्वारा महात्मा गांधी के जीवन-वृत्त पर आधारित छायाचित्र प्रदर्शनी का भी मुख्यमंत्री ने शुभारम्भ किया। इस दौरान उन्होंने स्वसहायता समूहों की महिलाओं से भेंटकर उनके द्वारा की जा रही विभिन्न सृजनात्मक गतिविधियों की जानकारी भी ली। इस अवसर पर प्रदेश के वरिष्ठ नेता मोहन मरकाम, वरिष्ठ विधायक  धनेन्द्र साहू,सत्यनारायण शर्मा, सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव, पूर्व विधायक हर्षद मेहता, लेखराम साहू,  अंबिका मरकाम के अलावा वरिष्ठ नागरिक  मोहन लालवानी, रामगोपाल अग्रवाल और पुलिस-प्रशासन के अधिकारी सहित जिले के वरिष्ठ जनप्रतिनिधिगण उपस्थित था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here