कांग्रेस के विजय वडेट्टीवार का कहना है कि शिवसेना द्वारा भाजपा के लिए भाजपा के प्रस्ताव को 2.5 वर्ष तक चलाने का प्रस्ताव है गेंद भाजपा के दरबार में है, यदि शिवसेना का प्रस्ताव हमारे पास आता है, तो हम उच्च कमान के साथ चर्चा करेंगे यह शिवसेना को तय करना है कि वह 5 साल का सीएम चाहती है या ढाई साल की सीएम की मांग पर भाजपा की प्रतिक्रिया का इंतजार करे.

वही शिवसेना के प्रताप सरनाईक का कहना है कि हमारी बैठक में यह निर्णय लिया गया कि जैसे अमित शाह ने एलएस चुनावों से पहले 50-50 फार्मूले का वादा किया था, उसी तरह दोनों सहयोगी दलों को 2.5-2.5 वर्षों के लिए सरकार चलाने का मौका मिलना चाहिए, इसलिए शिवसेना का भी सीएम बनना चाहिए. उद्धव ठाकरे को भाजपा से लिखित में यह आश्वासन मिलना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here