महासमुन्द :शासन की मंशा के अनुरूप जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में आज सरायपाली विकास खंड के ग्राम बिरकोल के शासकीय हाईस्कूल में जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में ग्राम पंचायत सहित आस पास के ग्रामीणों ने उपस्थित होकर अपनी मांग एवं समस्याओं से आवेदन पत्र सोपेंं। कलेक्टर सुनील कुमार जैन एवं अनुविभागीय अधिकारी राजस्व  विनय कुमार लंगेह की उपस्थिति में शिविर में प्राप्त कुल 75 आवेदनों के निराकरण की पहल की गई। इसमें से 74 प्रकरणों का निराकरण कर लिया गया । शेष 01 आवेदन के निराकृत करने के निर्देश दिए गए.

इस अवसर पर उपस्थित ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कलेक्टर  जैन ने कहा कि जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविरों का आयोजन का मुख्य उद्देश्य क्षेत्रीय स्तर के समस्याओं का क्षेत्र स्तर पर ही निराकरण करना है। ताकि आम लोगों का विकासखंड अथवा जिला मुख्यालय तक अपनी समस्याओं की निदान के लिए नहीं जाना पडे़। उन्होंनें कहा कि यह जिला स्वास्थ्य के क्षेत्र में पिछड़ा हुआ था। लेकिन शासन द्वारा माताओं एवं बच्चों में मौजूद कुपोषण को दूर करने के लिए सुघ्घर चिन्हारी योजना शिविर प्रारंभ की गई। और कुपोषण स्तर पर सुधार हुआ। इस सुधार को देखते हुए भारत सरकार द्वारा 03 करोड़ रू. की राशि पुरस्कार के रूप में जिले को प्रदान किया गया है.

शिविर में कलेक्टर  जैन ने कहा कि जिले में विशेषज्ञ चिकित्सकों की सुविधाएं को उपलब्ध कराने के उद्देश्य से नवआरोग्य अभियान प्रारंभ किया गया हैं। इसमें राजधानी के नामी-गिरामी चिकित्सलयों के विशेषज्ञ चिकित्सक यहां सुविधाएं दे रहें हैं। इसके अलावा डीएमएफ की राशि से महिलाएं एवं बच्चों के लिए सुपोषण आहार के साथ सुपोषण लड्डू भी प्रदाय करने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि जिले के प्रतिभावान युवाओं को विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए शामिल होने के उद्देश्य से नवकिरण अकादमी की व्यवस्था की गई है। और इसके माध्यम से लगभग 200 बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। उन्होंनें यह भी कहा कि वर्तमान में फसन कटाई प्रारंभ हो गई है। कृषक अपनी धान को अच्छी तरह से सुखा कर और साफ करके सोसायटी में बेचने का प्रयास करें। साथ ही टोकन भी समय पर ले लेवें.

हितग्राहियों को सामाग्री वितरण-

शिविर स्थल पर ही विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं के अंतर्गत किसानों को सामाग्री वितरण किया गया। इसके तहत कृषि विभाग द्वारा किसानों को मक्का, बीज वितरण किया गया । इनमें  हेमलाल, बिरंची, राजकुमार, निलाम्बर, कौरव, श्रीलाल, संतोष एवं जगदीश शामिल है। इसके अलावा एक स्वसहायता समूह किसानों को कृषि यंत्र का भी वितरण किया गया। उद्यानिकी विभाग द्वारा जिन किसानों को पौध वितरण किया गया उनमें  मंतराम निषाद , रघुनाथ साहू, निलाम्बर, जगदीश पटेल, शनिलाल, मनहर साहू, सूरित चौहान, गजपति पटेल, कपरूचंद पटेल, पिलउ राम एवं शोभाराम पटेल शामिल हैं.

इसके अलावा शिविर में स्वास्थ्य परीक्षण का भी आयोजन किया गया। इसमें बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने स्वास्थ्य परीक्षण कराया। शिविर में सभी विभाग के अधिकारियों ने अपने-अपने विभाग से संबंधित योजनाओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व विनय कुमार लंगेह जनपद पंचायत अध्यक्ष  जयंती पटेल, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्निग्धा तिवारी, सरपंच गजपत पटेल, आस-पास से आये जनप्रतिनिधिगण, जिला एवं ब्लॉक स्तरीय अधिकारीगण सहित ग्रामीणजन बड़ी संख्या में उपस्थित थे.

हमसे जुड़े :-

ट्विटर :https://mobile.twitter.com/DNS11502659

फेसबुक: https://www.facebook.com/dailynewsservices/

whatsApp:https://chat.whatsapp.com/FLvSyB0oXmBFwtfzuJl5gU

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here