समीक्षा बैठक के बाद किया गया औचक निरीक्षण
कामकाज में कसावट लाने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने की जांच
निरीक्षण के दौरान कोमाखान के एक पैथोलॉजी लैब को तत्काल बंद करने के दिए निर्देश

महासमुन्द-कलेक्टर  सुनील कुमार जैन के निर्देश पर जिले के प्रत्येक विकासखंडों में स्वास्थ्य व्यवस्था की जायजा लेने के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसपी वारे सहित विभाग के अधिकारियों की टीम द्वारा जमीनी स्तर पर निरंतर औचक निरीक्षण कर रहा है।

इस कड़ी में आज स्वास्थ्य अधिकारियों की टीम विकासखंड बागबाहरा पहुंचकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आयोजित समीक्षा बैठक में शामिल हुए। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसपी वारे ने विभागीय स्वास्थ्य योजनाओं की क्रियान्वयन के संबंध में जानकारी प्राप्त कर आंकलन किया और कार्य सुधार के लिए निर्देश दिए।

??

कोमाखान क्षेत्र के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में निरीक्षण के दौरान अब तक प्राप्त नवीनतम आंकड़ों में कुल 86 प्रसव व प्रतिमाह 15 से अधिक प्रकरणों में सफलतापूर्वक क्रियान्वयन के लिए स्थानीय स्वास्थ्यकर्मियों की तारीफ की। खंड चिकित्सा अधिकारी को लैब व्यवस्था सुधार सहित आवश्यक दवाओं का पर्याप्त स्टॉक रखने के निर्देश दिए। इसके अलावा अधिकारियों की टीम ने कोमाखान में संचालित राजेश पैथोलॉजी लैब का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान टीम ने संचालित पैथोलाॅजी लैब अवैधानिक रूप से संचालित पाया गया। इस पर अधिकारियों को पैथोलॉजी लैब को तत्काल बंद कराने के निर्देश दिए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here