भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD)आगामी सर्दियों का मौसम (दिसंबर से फरवरी) औसत से कम गर्म होने की संभावना हैभारत के उत्तरी अधिकांश हिस्सों को छोड़कर देश के अधिकांश हिस्सों में तापमान दर्शाता है. तीन महीनों में शीत लहर वाले इलाको में भी कड़ाके की शीत लहर( cold wave)चलने की किसी भी संभावना से इनकार किया है। शीत लहर(cold wave) चलने वाले क्षेत्रों में पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात(gujarat), मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, ओडिशा,(orisa) तेलंगाना और जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, मध्य महाराष्ट्र शामिल हैं

यहाँ पढ़े :12 सोनोग्रॉफी सेंटरों को नोटिस, 2 सोनोग्रॉफी सेंटरोें का पंजीयन निरस्त कर मशीन सील बंद

शीत लहर जोन के दौरान दिसंबर से फरवरी में न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक रहेगा.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here