मुंबई शहर के आर्थिक अपराध विंग डीसीपी श्रीकांत परोपकारी ने मुंबई में एज़प्लैनेड कोर्ट के बाहर उपस्थित पीएमसी के जमाकर्ताओं से कहा कि इस मामले में कोई भी दोषी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा.आप रोज आकर मुझसे मिल सकते हैं. हम यह सुनिश्चित करने के लिए अपनी पूरी कोशिश करेंगे कि आपका पैसा आपको वापस कर दिया जाए.

ज्ञात हो कि पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक में घोटाला होने के बाद से तीन खाता धारकों की मौत हो चुकी है. इस में से दो खाताधारक संजय गुलाटी और फत्तोमल पंजाबी की हार्ट अटैक से मौत हुई है. डॉक्टर निवेदिता ने वरसोवा इलाके में अपने घर में कथित रूप से आत्महत्या कर ली. इस मामले में  एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस को नहीं लगता कि इस आत्महत्या का संबंध पीएमसी बैंक के संकट और जमाकर्ताओं पर आयी वित्तीय परेशानी से है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here