Ad
Home देश छत्तीसगढ़ धान का उठान नहीं करने वाले 06 मिलर्स को कारण बताओ नोटिस...

धान का उठान नहीं करने वाले 06 मिलर्स को कारण बताओ नोटिस जारी-

धमतरी:कस्टम मिलिंग की अनुमति प्राप्त कर धान का उठाव नहीं किए जाने पर कलेक्टर रजत बंसल ने जिले के 06 मिलर्स को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उन्होंने छत्तीसगढ़ शासन द्वारा जारी मिलिंग नीति के अनुरूप समर्थन मूल्य पर उपार्जित धान की कस्टम मिलिंग करने के निर्देश दिए हैं। गौरतलब है कि खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में किसानों से उपार्जित धान की कस्टम मिलिंग के लिए जिले के पंजीकृत राईस मिलर्स को अनुमति जारी की गई है। साथ ही अविलंब मार्कफेड के प्रतिनिधि जिला विपणन अधिकारी से अनुबंध निष्पादित करने, अधिक से अधिक बैंक गारंटी/प्रतिभूमि राशि प्रस्तुत कर धान का उठाव करने और भारतीय खाद्य निगम/नागरिक आपूर्ति निगम में कस्टम मिल्ड चावल जमा करने के निर्देश दिए गए हैं। इससे धान उपार्जन केन्द्रों में किसानों से धान उपार्जन के लिए पर्याप्त स्थान उपलब्ध रहे और जाम की स्थिति निर्मित नहीं होगी.

खाद्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक कस्टम मिलिंग की अनुमति प्राप्त कर जिला विपणन अधिकारी धमतरी से अब तक अरिहंत फूड्स देमार, भवानी राईस मिल डोंगरडुला, मे.मायारानी लॉजिस्टिक हब बोरिदखुर्द, रिषभ राईस प्रोसेसिंग श्यामतराई एवं श्री महावीर ट्रेडर्स धमतरी कुल पांच राईस मिलर्स द्वारा अनुबंध निष्पादित नहीं किया गया। इसी तरह अनुबंध के बाद अपनी मिलिंग क्षमता के अनुरूप आकांक्षा धान कुटाई उद्योग देमार, मॉं अन्नपूर्णा आहार पुरैना कुरूद, मां चण्डी राईस मिल गाड़ाडीह, मे.बी.एम.एग्रो इण्डस्ट्रीज कोड़ेबोड़, मे.परमेश्वरी राईस मिल कुरूद एवं शक्ति राईस मिल धमतरी कुल 06 मिलर्स द्वारा धान का उठाव नहीं किया गया है। इसके मद्देनजर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है.

हमसे जुड़े :-