बलौदाबाजार- खाद्य सचिव  कमलप्रीत सिंह ने आज यहां जिला कार्यालय के सभाकक्ष में अधिकारियों की बैठक लेकर धान खरीदी के लिए की जा रही प्रशासनिक तैयारियों की समीक्षा की। कलेक्टर  कार्तिकेय गोयल, एसपी नीतु कमल सहित धान खरीदी से जुड़े तमाम बड़े अफसर इस मौके पर उपस्थित थे। सचिव  सिंह ने बैठक में कहा की धान खरीदी में वास्तविक किसानों को फड़ में कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए। उन्होंने साफ कहा की खरीदी तंत्र में कोचिया, दलाल एवं गैर किसानों के लिए कोई जगह नहीं है। ऐसे लोग अनुचित तरीके का इस्तेमाल कर धान बेचने का प्रयास नहीं करें। उन्होंने चेतावनी के लहजे में कहा कि अवैध परिवहन करते हुए पाये जाने पर आरोपी को जेल की हवा खानी पड़ेगी। माल समेत वाहन जब्त कर मोटर व्हीकल एक्ट और प्रदूषण एक्ट सहित विभिन्न धाराओं के अंतर्गत सख्त कार्रवाई की जायेगी।

 

खाद्य सचिव  ने जिला प्रशासन को अपनी निगरानी तंत्र को अभी से सक्रिय कर देने को कहा है। उन्होंने कहा कि वास्तविक किसानों के अलावा किसी और के पास नियमों के बाहर धान का अवैध संग्रहण नहीं होने चाहिए। उन्होंने किसानों से भी अपील की है कि वे अपने मकान में कोई कोचिया अथवा व्यापारी का मॉल रखने ना दें। उन्होंने जोर देकर कहा कि राज्य सरकार किसानों का धान खरीदने के लिए तमाम व्यवस्था बनाई हुई है। किसानों का धान 2500 रुपये क्विन्टल में खरीदी कर उनका माली हालत सुधारने के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि धान खरीदी इस बार 1 दिसम्बर से शुरू होगी। उन्होंने कहा कि धान खरीदी में समिति प्रबन्धकों की प्रमुख भूमिका होती है। इस बार ऐसा सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है कि कोई भी गड़बड़ी को यह पहचान कर तुरन्त जिले के कलेक्टर-एसपी को अलर्ट कर देगी। उन्होंने सहकारिता विभाग के उप पंजीयक को इन पर पैनी निगाह रखने को कहा है।

 

कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने धान खरीदी के लिए की गई अब तक की तैयारियों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस साल एक लाख 54 हज़ार 841 किसानों द्वारा 1 लाख 88 हज़ार 467 हेक्टेयर रकबे का पंजीयन कराया गया है। पिछले साल की अपेक्षा इस साल 25 हज़ार ज्यादा किसानों ने पंजीयन कराया है। इतने किसानों का लगभग 20 हज़ार हेक्टेयर रकबा का नया पंजीयन किया गया है। खरीदी कार्य की पर्यवेक्षण एवं मॉनिटरिंग के लिए वरिष्ठ अधिकारियों की तैनाती कर दी गई है। खरीदी केंद्रों की साफ-सफाई का काम जारी है। इन केंद्रों पर किसानों को कोई असुविधा ना हो, इसका ध्यान रखा गया है। एस पी नीतु कमल ने बताया कि पुलिस की पेट्रोलिंग पार्टी भी समय-समय पर जायज़ा लेती रहेगी। बैठक में अपर कलेक्टर  जोगेंद्र नायक, एडिशनल एसपी निवेदिता पाल, संयुक्त कलेक्टर  अरविंद पांडे, डिप्टी कलेक्टर एवं खाद्य अधिकारी राकेश गोलछा, डिप्टी कलेक्टर मिथलेश डोडे, एएफओ अनिल जोशी, नोडल अफसर  लखेस्वर साहू आदि अफसर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here