महासमुंद:खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में जिले में धान के अवैध परिवहन पर निगरानी रखने के लिये कलेक्टर सुनील कुमार जैन एवं पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शुक्ल ने राजस्व विभाग, खाद्य विभाग, कृषि उपज मंडी समिति एवं जिला सेनानी के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में जिले के बाहर से परिवहन करके लाये जाने वाले धान की सत्त जांच करने तथा धान का अवैध परिवहन पाये जाने पर मंडी अधिनियम के तहत् धान एवं वाहन जप्त कर अभियोजन की कार्यवाही करने का निर्देश दिया गया। राज्य का सीमावर्ती जिला होने के कारण जिले में 17 जांच चौकी की स्थापना की गई है, जिसके प्रभारी क्षेत्र के तहसीलदार है। इस जांच चौकियों में मण्डी, पंचायत, नगर सैनिको एवं वन विभाग के कर्मचारियों की ड्यूटी लगायी गई है जो धान खरीदी की अवधि समाप्त होने तक लगातार धान के परिवहन की जांच करेंगे। इसके अलावा प्रत्येक तहसील में उड़न दस्ता दल का गठन किया गया है, जिसमें राजस्व विभाग, खाद्य विभाग, मंडी एवं सहकारिता विभाग के अधिकारी शामिल हैं.

बैठक में बताया गया कि उड़न दस्ता को क्षेत्र में दिन-रात भ्रमण कर धान के परिवहन की जांच करने का निर्देश दिया गया। उपरोक्त के अलावा प्रत्येक पुलिस थाना का बल भी धान के अवैध परिवहन के रोकथाम की कार्यवाही करेगा। बैठक में उपस्थित मंडी सचिवो ने जानकारी दी कि जिले की सभी जांच चौकियॉ प्रारंभ कर दी गई है तथा आज से उड़न दस्ता का कार्य भी प्रारंभ हो जावेगा। कलेक्टर ने तहसीलदारो को जांच चौकियों के स्थल का परीक्षण कर आवश्यकतानुसार उचित स्थान पर स्थापित करने अथवा नयी जांच चौकी प्रारंभ करने का प्रस्ताव प्रेषित करने का निर्देश दिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उन्होंने धान का अवैध परिवहन एवं संग्रहण पर रोकथाम हेतु कार्यरत् उड़न दस्ता एवं जांच चौकी के कर्मचारियों को सहयोग प्रदान करने के लिए थाना प्रभारियों को निर्देशित किया है। बैठक में इस कार्य में लगे कर्मचारियो को निष्ठापूर्वक कार्य करने का निर्देश देते हुए लापरवाही बरतने वाले कर्मचारी के विरुद्ध कठोर अनुशासनात्मक कार्यवाही किये जाने की चेतावनी दी गई.

उल्लेखनीय है कि जिले में 17 जांच चौकियां स्थापित की गई हैं। इनमें सरायपाली तहसील के अंतर्गत बंजारी जांच चौकी, पालीडीह सिरपुर जांच चौकी, पझरापाली जांच चौकी, जंगलबेड़ा जांच चौकी, छिबर्रा (घाट) जांच चौकी बनाया गया हैं। बसना तहसील में गढ़फूलझर जांच चौकी, पलसापाली जांच चौकी, केरामुड़ा, कुदारीबाहरा जांच चौकी एवं साल्हेंझरिया जांच चौकी बनाया गया हैं। पिथौरा तहसील में कटंगतरई जांच चौकी, छोटेलोरम/लारीपुर जांच चौकी, चरौदा जांच चौकी बनाया गया है। इसके अलावा बागबाहरा तहसील के अंतर्गत टेमरी जांच चौकी, नर्रा जांच चौकी, खेमड़ा जांच चौकी, खट्टी जांच चौकी एवं रेवा जांच चौकी बनाया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here