दिल्ली-कैबिनेट सचिव  राजीव गाबा ने आज नई दिल्‍ली में गुजरात, महाराष्ट्र और दमन एवं दीव में आने वाले “महा” चक्रवात से निपटने की तैयारी का जायजा लेने के लिए एनसीएमसी की बैठक की अध्यक्षता की।

कैबिनेट सचिव ने मौजूदा हालात और बचाव तथा राहत गतिविधियों की तैयारी का जायजा लिया। उन्‍होंने निर्देश दिया कि जहां भी आवश्‍यकता हो, वहां फौरन मदद पहुंचाई जाये।

फ़ाइल् फोटो

मौसम विभाग ने बताया है कि चक्रवात इस समय पूर्व-मध्‍य अरब सागर के ऊपर मौजूद है और पश्चिम व उत्‍तर की ओर बढ़ रहा है। आशंका है कि 5 नवम्‍बर की सुबह इसमें तेजी आयेगी। इसके बाद वह कमजोर पड़ेगा तथा 6 नवम्‍बर की रात और 7 नवम्‍बर की भोर में गुजरात और महाराष्‍ट्र से टकरायेगा। आशंका है कि इस दौरान भारी वर्षा होगी और 90 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ समुद्र में डेढ़ मीटर तक की लहरें उठेंगी।

गुजरात और महाराष्‍ट्र के मुख्‍य सचिवों ने बताया कि दोनों राज्‍यों में जरूरी तैयारियां कर ली गई है तथा एनडीआरएफ, एचडीआरएफ की टीमों को तटरक्षक और नौसेना के पोतों के साथ तैनात कर दिया गया है। जिला प्रशासन को सतर्क कर दिया गया है और मछली पकड़ने की सभी गतिविधियों पर रोक लगा दी गई है। दमन एवं दीव प्रशासन ने भी अपनी तैयारियों और बचाव कार्य का ब्‍यौरा पेश किया।

बैठक में गृह मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय, आईएमडी, एनडीएमए और एनडीआरएफ के आला अधिकारियों ने हिस्‍सा लिया। गुजरात और महाराष्‍ट्र के मुख्‍य सचिव तथा दमन एवं दीव प्रशासन के अधिकारी भी बैठक में उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here