‘बुलबुल’अगले 24 घंटों के दौरान एक गंभीर चक्रवाती तूफान में तेज होने की है संभावना

599

MD: चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ आज सुबह 8:30 बजे, बंगाल की पूर्व-मध्य खाड़ी पर, पारादीप, ओडिशा के दक्षिण-पूर्व में लगभग 680 किलोमीटर और सागर द्वीपों, पश्चिम बंगाल के 780 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व में स्थित है। यह अगले 24 घंटों के दौरान एक गंभीर चक्रवाती तूफान में तेज होने की संभावना है।

बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवात बुलबुल का प्रभाव  सबसे ज्यादा आंध्र प्रदेश और ओडिशा में देखने को मिल सकता है  बुलबुल से निपटने के लिए दोनों राज्यों में तैयारी चल रही हैं. बुलबुल इस साल का 7वां चक्रवाती तूफान है जो भारत के तट से टकराएगा।

आंध्र और ओडिशा के दो जिलों केंद्रपाड़ा और जगतसिंहपुर पर बुलबुल का खतरा मंडरा है। वहीं अरब सागर में चक्रवाती तूफान महा का खतरा पहले से ही मौजूद है। जानकारों की माने तो अगर ये दोनों तूफान ज्यादा खतरनाक रूप लेते हैं तो महाराष्ट्र, गुजरात, पश्चिम बंगाल, आंध्र और ओडिशा पर इसका सीधा असर पड़ेगा। ऐसे में भारी बारिश के साथ तेज हवाएं चलेंगी।