Home टेक्नोलॉजी रक्षा मंत्रालय ने ब्रह्मोस मिसाइल के लिए BAPL के साथ अनुबंध पर...

रक्षा मंत्रालय ने ब्रह्मोस मिसाइल के लिए BAPL के साथ अनुबंध पर किए हस्ताक्षर

19
0

Delhi:-रक्षा मंत्रालय ने रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता को और आगे प्रोत्साहित करते हुए “भारतीय-खरीदें” श्रेणी के तहत सतह से सतह पर मार करने में सक्षम अतिरिक्त दोहरी भूमिका वाली ब्रह्मोस मिसाइलों BrahMos missile के अधिग्रहण के लिए आज मैसर्स ब्रह्मोस एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड (BAPL) के साथ एक अनुबंधपत्र पर हस्ताक्षर किए।

सतह से सतह पर मार करने में सक्षम दोहरी भूमिका वाली ब्रह्मोस मिसाइल के लिए ब्रह्मोस एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर किए

इसकी कुल अनुमानित लागत 1 हजार 700 करोड़ रुपये है। इन दोहरी भूमिका वाली आधुनिक मिसाइलों के भारतीय नौसेना (आईएन) में शामिल होने से बेड़े की मारक क्षमता और परिचालन गतिविधियों में महत्वपूर्ण वृद्धि होगी।

रक्षा मंत्रालय ने वाहनों की आपूर्ति के लिए महिंद्रा डिफेंस सिस्टम्स लिमिटेड से किए अनुबंध

यह उल्लेखनीय है कि BAPL भारत तथा रूस की साझेदारी में रक्षा मंत्रालय का एक संयुक्त उद्यम (जेवी) है, जो नई पीढ़ी की सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइलों के निर्माण और इन्हें अत्याधुनिक बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है।

इन मिसाइलों में सतह के साथ-साथ पोत-रोधी हमलों के लिए उन्नत रेंज और दोहरी भूमिका क्षमता है। यह अनुबंध स्वदेशी उद्योग की सक्रिय भागीदारी के साथ ही महत्वपूर्ण हथियार प्रणाली एवं गोला-बारूद के स्वदेशी उत्पादन को और आगे बढ़ावा देने वाला है।

हमसे जुड़े :

आपके लिए /छत्तीसगढ़/महासमुन्द

भाषा बदले »