आज से विशेष पूजा-पाठ के बाद चारोधाम के पट बंद होना हो जाएगे शुरू-

120

दीपावली,अन्नकूट गोवर्द्धन पूजा के पावन पर्व के बाद चारोधाम के मन्दिरों के पट शीतकालीन काल के लिए बंद हो जाते है केदारनाथ,बद्रीनाथ,गंगोत्री व् यमुनोत्री के पट बंद होकर उनके पत्रिकात्मक मूर्तियों को मैदानी स्थल में उनके विभिन्न स्थानों पर लाकर पूजापाठ किया जाएगा.

आज स्वाति नक्षत्र में गंगोत्री मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए बंद किए गए. गंगोत्री से मां गंगा की भोग मूर्ति डोली यात्रा के साथ शीतकालीन प्रवास मुखबा गांव के लिए रवाना हुई.गंगोत्री धाम और गंगोत्री से मुखबा तक का यात्रा पथ मां गंगा के जयकारों से गूंज उठा.गंगोत्री विधायक एवं डीएम की मौजूदगी में मंदिर के द्वार को सीलबंद किया गया.

पारंपरिक वाद्य यंत्र ढोल, दमाऊं, रणसिंघा के साथ ही हर्षिल में तैनात भारतीय सेना की 9वीं बिहार रेजीमेंट के बैंड की अगुवाई में निकली इस डोली यात्रा में सैकड़ों श्रद्धालु शामिल हुए.